कोलकाता: दुर्गापूजा पंडाल में अजान , साजिश या सद्भाव

कोलकाता: दुर्गापूजा पंडाल में अजान , साजिश या सद्भाव
कोलकाता: दुर्गापूजा पंडाल में अजान , साजिश या सद्भाव

Rabindra Rai | Updated: 07 Oct 2019, 07:32:24 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

कोलकाता के बेलियाघाट के एक दुर्गापूजा पंडाल में कथित तौर पर अजान की रिकॉर्डिंग बजने से विवाद पैदा हो गया है। इस मसले पर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी हुई है। आयोजक बचाव की मुद्रा में हैं, जबकि हिन्दू जागरण मंच, दक्षिण बंगाल के प्रचार प्रमुख विवेक सिंह का दावा है कि एक बड़ी साजिश के तहत बंगाल में हिन्दू भावनाओं को लगातार ठेस पहुंचाई जा रही है

कोलकाता
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के बेलियाघाट के एक दुर्गापूजा पंडाल में कथित तौर पर अजान की रिकॉर्डिंग बजने से विवाद पैदा हो गया है। इस मसले पर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी हुई है। आयोजक बचाव की मुद्रा में हैं, जबकि हिन्दू जागरण मंच, दक्षिण बंगाल के प्रचार प्रमुख विवेक सिंह का दावा है कि एक बड़ी साजिश के तहत बंगाल में हिन्दू भावनाओं को लगातार ठेस पहुंचाई जा रही है। किसी दुर्गा पूजा पंडाल में अजान बजने सेकोई हिन्दू खुश नहीं होगा। वहीं वकील शांतनु सिन्हा ने इसे पूरी तरह से राजनीतिक मामला बताते हुए केस दर्ज कराया है।
महानगर के बेलियाघाटा 33 पल्ली दुर्गापूजा पंडाल में यह अजान बजते सुना गया। इस बीच आयोजकों का तर्क है कि धार्मिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए यहां पंडाल में मंदिर, मस्जिद और चर्च तीनों को शामिल करने की कोशिश की गई है। इसी के तहत अजान के साथ-साथ मंत्रोच्चार और चर्च की घंटी के आवाज को भी शामिल किया गया।
दूसरी तरफ वकील शांतनु का दावा है कि कोई भी मुस्लिम हर 5 मिनट में अजान की आवाज को लेकर उसकी सराहना नहीं करेगा। यह पूरी तरह से राजनीतिक है। उन्होंने कहा, मुझे बताइए कि पूजा पंडाल में अजान से सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने में कैसे मदद मिलेगा? मैंने एक व्यक्ति के रूप में यह शिकायत दर्ज की है। अगर मस्जिद से गीता का पाठ किया जाता है तो मुझे दुख होगा। इसी तरह मुझे दुर्गा पूजा पंडाल में अजान से दुख है।
--
इनका कहना है
एक बड़ी साजिश के तहत बंगाल में हिन्दू भावनाओं को लगातार ठेस पहुंचाई जा रही है। किसी दुर्गा पूजा पंडाल में अजान बजने सेकोई हिन्दू खुश नहीं होगा। क्या किसी मस्जिद या चर्चसे हनुमान चालीसा या गीता पाठ सुनाई देगा। पितृपक्ष में दुर्गा पूजा का उद्घाटन भी सही कदम नहीं है।
विवेक सिंह, हिन्दू जागरण मंच, प्रचार प्रमुख, दक्षिण बंगाल

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned