देश चलता है अधिकारियों के दम पर

Shishir Sharan Rahi

Publish: Jan, 14 2018 10:38:09 PM (IST)

Kolkata, West Bengal, India
देश चलता है अधिकारियों के दम पर

प्रशासनिक सेवाओं में चयनित जैन समाज के युवा प्रतिभाओं को नवाजा


कोलकाता. ‘नए सपने, नई बात, नए जज्बात कर डालो, उठाके चांद-तारों को अपने नाम कर डालो, लगा दो जान की बाजी, कुछ ऐसा काम कर डालो’। अलीपुर स्थित प्रेसीडेंसी जेल के सामने उत्तीर्ण मंच में रविवार को विशिष्ट प्रतिभाओं के सम्मान समारोह में प्रेरणादायक गीत की इस पंक्ति से आईएएस, आईपीएस, आईआरएस और आईएफएसओ आदि प्रशासनिक सेवाओं में चयनित जैन समाज के युवाओं से समाज सेवा खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में ईमानदारी-लगन से काम करने का आह्वान वक्ताओं ने किया। साथ ही राष्ट्र व समाजसेवा में उल्लेखनीय योगदान देनेवाले अधिकारियों का अभिनंदन किया गया। जैन इंटरनेशनल ट्रेड आर्गेनाइजेशन (जीटो), आचार्य महाप्रज्ञ महाश्रमण एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन, सकल दिगम्बर जैन समाज, श्रीश्वेताम्बर स्थानकवासी जैन सभा, श्री श्वेताम्बर मूर्तिपूजक जैन संघ और जीटो कोलकाता चैप्टर की ओर से इसका आयोजन किया गया था।
-प्रधान अतिथि पुलिस कमिश्नर
प्रधान अतिथि पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि कभी प्रशासकीय सेवाओं में जैन समाज की भागीदारी काफी कम देखने को मिलती थी, पर आज हालात बदल गए हैं। आज जैन समाज के युवा प्रशासनिक सेवाओं में बढ़-चढक़र भाग ले रहे हैं। मुख्य वक्ता बच्छावत ने युवा अधिकारियों से दुखियों का सहारा बनने और देश-समाज का नाम रोशन करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि देश प्रशासनिक अधिकारियों के दम पर ही चलता है, न कि किसी मंत्री के सहारे। बंगाल के पर्यटन सचिव मनीष जैन ने कहा कि व्यवस्था में बदलाव के लिए नयापन जरूरी है। २००८ बैच के आईएएस डॉ. धीरज जैन ने युवाओं से कॅरियर के बारे में ठोस निर्णय लेने पर जोर देते हुए कहा कि मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता।
---ये थे अतिथि
प्रधान अतिथि कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार, मुख्य अतिथि प्रिङ्क्षसपल कमिश्नर ऑफ इनकम टैक्स आरएस उपाध्याय (आईआरएस), मुख्य वक्ता पश्चिम बंगाल टैक्सेशन ट्रिब्यूनल के सदस्य सीएम बच्छावत (रिटायर्ड आईएएस), विशिष्ट अतिथि बंगाल के पर्यटन, विकास व योजना विभाग के सचिव मनीष जैन (आईएएस) व सम्मानित अतिथि जेएटीएफ के राष्ट्रीय प्रेसीडेंट जेबी जैन थे। मुख्य संयोजक कमल कुमार दुगड़, विनोद दुगड़, सर्वेश पाटनी व विनोद काला थे। संचालन विनोद बैद ने किया।
--क्या है जीटो?
समाज को जोडऩे, सेवा, ज्ञान के क्षेत्र में मुख्य भूमिका निभाने के लिए १० साल पहले शुरू जीटो के आज जयपुर , कोलकाता सहित देशभर में ३६ यूनिट्स, १० जोन, ६३ चैप्टर्स और ६५१४ सदस्य हैं।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned