कोविड-19: 24 घंटे में इतिहासकार व वकील समेत 14 की मौत

पश्चिम बंगाल में 24 घंटे में वैश्विक महामारी कोरोना से एक इतिहासकार और वकील समेत 14 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 113 हो गई। 24 घंटे में रिकॉर्ड 153 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल पीडि़तों की संख्या बढ़कर 1939 हो गई है। संक्रमित 417 लोगों को विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। संक्रमण के मुकाबले डिस्चार्ज दर 21.51 फीसदी होने का दावा किया गया है।

By: Rabindra Rai

Published: 10 May 2020, 10:28 PM IST

पश्चिम बंगाल में मृतकों की संख्या पहुंची 113
रिकॉर्ड 153 नए मामले आए सामने, कुल पीडि़त 1939
कोलकाता.
पश्चिम बंगाल में 24 घंटे में वैश्विक महामारी कोरोना से एक इतिहासकार और वकील समेत 14 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 113 हो गई। 24 घंटे में रिकॉर्ड 153 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल पीडि़तों की संख्या बढ़कर 1939 हो गई है। संक्रमित 417 लोगों को विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। संक्रमण के मुकाबले डिस्चार्ज दर 21.51 फीसदी होने का दावा किया गया है।
राज्य के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग की ओर से रविवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार राज्य में फिलहाल 1337 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। अब तक कोरोना से 113 लोगों की मौत हुई है वहीं 72 लोगों की मृत्यु कोमॉर्बिडिटी से होने की पुष्टि है।
--
वासुदेवन के निधन से शोक
कोरोना संक्रमण से जानेमाने इतिहासकार हरिशंकर वासुदेवन की मौत हो गई। वासुदेवन 68 साल के थे। शनिवार रात 1 बजे के करीब उन्होंने अंतिम सांस ली है। साल्टलेक के सीडी ब्लॉक में रहने वाले वासुदेवन मई महीने की शुरुआत में सर्दी खांसी और बुखार से पीडि़त हुए थे। 4 मई को उन्हें सॉल्टलेक के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। 6 मई को उनके कोरोनावायरस पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। उसके बाद से उन्हें सांस लेने में काफी तकलीफ होने लगी थी। जान बचाने के लिए वेंटिलेशन पर गया था, लेकिन उन्होंने दम तोड़ दिया। भारत और यूरोप में लोकतंत्र और विकास के संबंध में शोध कर वासुदेवन के निधन से शिक्षा जगत में शोक की लहर दौड़़ गई है।
--
अलीपुर कोर्ट में करते थे वकालत
गोविंद पाल नामक अधिवक्ता अलीपुर न्यायालय में वकालत करते थे। एमआर बांगुर अस्पताल में रविवार सुबह 10.30 बजे के करीब उनकी मौत हुई है। बालीगंज इलाके के रहने वाले गोविंद पाल (५१) को गुरुवार अस्पताल में भर्ती किया गया था। करीब एक सप्ताह पहले से ही उन्हें सर्दी खांसी बुखार जैसे लक्षण थे। तब एक निजी डॉक्टर की सलाह पर वे आइसोलेशन में रह रहे थे। जब हालत बिगडऩे लगी तब उन्हें अस्पताल लाया गया था।
--
43,414 लोगों के नमूने की जांच
कोरोना पर मेडिकल बुलेटिन ने स्पष्ट किया है कि रविवार को कुल 4,046 लोगों के सैम्पल टेस्ट किए गए। राज्य में अब तक कुल मिलाकर 43,414 लोगों के नमूने की जांच की गई है। शनिवार तक यह संख्या 39,368 थी। स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग ने दावा किया है कि राज्य में सैम्पल टेस्ट प्रति 10 लाख की आबादी पर जांच दर 482 व्यक्ति है। मेडिकल बुलेटिन के अनुसार संदिग्ध संक्रमण के शिकार 5,921 लोगों को कुल 582 सरकारी क्वारंटाइन सेन्टरों में रखा गया है। वहीं 18,458 लोग फिलहाल होम क्वारंटाइन में हैं।
--
स्वास्थ्य विभाग की विशेष टीम
स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग की विशेष टीम ने रविवार को कोलकाता सहित विभिन्न जिलों में स्थित कंटेनमेन्ट जोन (जोखिम क्षेत्र) वाले इलाके का निरीक्षण किया। इस संदर्भ में राज्य के स्वास्थ्य सचिव विवेक कुमार के हवाले से कहा गया है कि टीम ने कंटेनमेन्ट जोन से संबंधित केंद्रीय गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों का अनुपालन होने का भी जायजा लिया। संबंधित जिले के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी को प्रभावित इलाकों पर विशेष नजर रखने तथा दैनिक समीक्षा रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को भेजने को कहा गया है।

Corona virus
Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned