लश्कर के नए माड्यूल में थी बंगाल की पहली महिला आतंकी

पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं के कहने पर लश्कर ए तैयबा की बंगाल (West Bengal) में पहली महिला आतंकी तानिया परवीन काम कर रही थी। वह पढ़े लिखे कट्टर युवाओं को देशविरोधी गतिविधियों से जोडऩे में लगी हुई थी। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की गिरफ्त में मौजूद तानिया से पूछताछ में यह बातें सामने आई हैं।

By: Paritosh Dube

Published: 22 Jun 2020, 10:55 PM IST

कोलकाता. भारत विरोधी गतिविधियों में सक्रिय आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से जुड़ी और बंगाल की पहली महिला आतंकी तानिया परवीन ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी की हिरासत में कई राज उगले हैं। वह पाकिस्तान में बैठे अपने आका के कहने पर आतंकी संगठन के नए माड्यूल का विस्तार कर रही थी। जिसमें कई पढ़े लिखे कट्टर युवाओं के शामिल होने की बात सामने आ रही है।
-----------
ब्रेनवॉश का जिम्मा दिया गया था
केन्द्रीय जांच एजेंसी को उससे पूछताछ में पता चला है कि तानिया को पढ़े लिखे युवाओं के ब्रेनवॉश का जिम्मा दिया गया था। जो वह पिछले ढाई सालों से कर रही थी। उसे कोलकाता पुलिस के एसटीएफ ने इसी साल मार्च महीने में बादुडिय़ा स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया था। 14 जून को उसे एनआईए ने अपनी हिरासत में लिया है।
-------
सेना के जवानों के हनीट्रेप का किया था प्रयास
पूछताछ में सामने आया है कि तानिया के रडार में भारत के सीमावर्ती मसलन राजस्थान, जम्मू व कश्मीर जैसे प्रदेश थे। बांग्ला, हिंदी, अरबी व कश्मीरी की जानकार यह महिला आतंकी सेना के जवानों को हनीट्रेप करने की फिराक में रहती थी। इसके साथ ही वह आतंकी संगठन में नए रिकू्रट भर्ती करने का काम भी कर रही थी।
तानिया की गिरफ्तारी के बाद लश्कर के नए माड्यूल से जुड़े सदस्यों की खोजबीन शुरू हो गई है। इधर, एनआई तानिया के स्थानीय संपर्कों को खंगाल रहा है। उसे लेकर उसके बंगाल स्थित बादुडिय़ा के घर के सील गए कमरों की तलाशी ली है। जहां उसकी डायरियां व नोटबुक जब्त किए गए हैं।
---------
पाकिस्तान के वाट्सऐप गु्रप से जुड़ी थी
कोलकाता के एक कॉलेज में अरेबिक की स्नातकोतर छात्रा के भेष में छुपी लश्कर आतंकी तानिया के पास से पाकिस्तानी सिमें बरामद हुई हैं। जिनके सहारे वह वहां केवाट्सऐप गु्रप से जुड़ी थी। उसे उसके आका इन्हीं गु्रपों के सहारे दिशानिर्देश देते थे।
-----------
कुछ ऐसा करने की फिराक में जो कभी नहीं हुआ
एनआईए सूत्रों के अनुसार लश्कर के आका ने तानिया के माड्यूल से इस बार कुछ ऐसा कराने की योजना बनाई थी जो अब तक नहीं किया गया। यह बात सामने आने पर जांच एजेंसी के कान खड़े हुए हैं। बताया जाता है कि तानिया ने संगठन के विस्तार के लिए बंगाल के उत्तर 24 परगना और मुर्शिदाबाद का दौरा भी किया था।
----------
उत्तर भारत के आतंकी के संपर्क में थी
जांच में सामने आया है कि तानिया को लश्कर से जोडऩे का काम उत्तर भारत में सक्रिय संगठन के एक आतंकी ने किया था। उसने तानिया को नए युवाओं को संगठन से जोडऩे का जिम्मा दिया था।

Show More
Paritosh Dube
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned