मालदह हत्याकांड: मुख्य आरोपी के 2 दोस्त गिरफ्तार

सनसनीखेज मालदह हत्याकांड के मुख्य आरोपी आसिफ मोहम्मद की गतिविधियों को लेकर रहस्य गहराता जा रहा है। माता-पिता, बहन और दादी की हत्या कर घर में दफनाने वाले आसिफ से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने शनिवार रात साबिर अली और महरुफ अली नामक उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार किया।

By: Rabindra Rai

Published: 21 Jun 2021, 12:08 AM IST

5 अवैध हथियार, 80 राउंड कारतूस और 10 मैगजीन बरामद
आसिफ के जेएमबी आतंकी जियाउल से संबंध का संदेह
कोलकाता/मालदह. सनसनीखेज मालदह हत्याकांड के मुख्य आरोपी आसिफ मोहम्मद की गतिविधियों को लेकर रहस्य गहराता जा रहा है। माता-पिता, बहन और दादी की हत्या कर घर में दफनाने वाले आसिफ से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने शनिवार रात साबिर अली और महरुफ अली नामक उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार किया। उनके घर से 5 अवैध हथियार, 10 मैगजीन और 80 राउंड कारतूस बरामद किए गए। प्राथमिक जांच के आधार पर पुलिस का अनुमान है कि आसिफ हथियारों की तस्करी और अपराध से जुड़ा हुआ था।
खागड़ागढ़ विस्फोट कांड के मुख्य आरोपियों में से एक जेएमबी आतंकी जियाउल हक भी ओल्ड मालदह के 16 माइल इलाका स्थित गुरुटोला गाँव का निवासी है। जियाउल का घर आसिफ के घर से महज 200 मीटर की दूरी पर है। पुलिस अब इस बात का पता लगा रही है कि आसिफ के जियाउल हक से कोई संबंध है अथवा नहीं। रविवार को आसिफ और उसके दोनों दोस्तों को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने आसिफ को 12 दिनों के लिए तथा साबिर और महरूफ को 4 दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया। सभी से पूछताछ की जा रही है।
---
पुलिस ने परिजनों से की पूछताछ
कालियाचक थाने की पुलिस रविवार को जियाउल के घर गई और उसके परिजनों से पूछताछ की। हालांकि अभी तक पुलिस को इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार जियाउल के पिता ने पूछताछ में कहा है कि आसिफ से उसके परिवार का कोई संबंध नहीं है। वह कभी उनके घर नहीं आया है। पिता फहिउद्दीन ने आसिफ को सिरफिरा बताया। पेशे से शिक्षक फहिउद्दीन ने कहा कि हम सभी यही जानते हैं कि आसिफ सिरफिरा है।
--
पुलिस ने यह किया खुलासा
हत्याकांड में पुलिस ने रविवार को बड़ा खुलासा किया। आरोपी आसिफ मोहम्मद ने फोटो खिंचवाने के लिए अपने परिवार के 4 सदस्यों को घर के तहखाने में चलने को कहा और वहां उसने लकड़ी के ढांचे में पानी में डूबो कर उनकी हत्या कर दी। पुलिस को आशंका है कि इस हत्याकांड के पीछे संपत्ति संबंधी विवाद मुख्य कारण हो सकता है, लेकिन कहा कि यह निष्कर्ष नहीं है क्योंकि जांच अब भी जारी है।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned