बंगाल के किसानों को रियायत दर पर मशीनरी

पश्चिम बंगाल सरकार मक्के की कटाई के लिए किसानों को शीघ्र सब्सिडी दर पर मशीनरी उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। राज्य के अधिकांश इलाकों में समय के साथ-साथ मक्के की खेती भी तेजी से बढ़ी है।

By: Prabhat Kumar Gupta

Updated: 25 Nov 2018, 07:17 PM IST


- राज्य सरकार ने लिया निर्णय
कोलकाता.
पश्चिम बंगाल सरकार मक्के की कटाई के लिए किसानों को शीघ्र सब्सिडी दर पर मशीनरी उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। राज्य के अधिकांश इलाकों में समय के साथ-साथ मक्के की खेती भी तेजी से बढ़ी है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य के किसानों को हर संभव सहयोग करने का िनदेर्श िदया है। किसानों को राहत पहुंचाने के उ²ेश्य से कृषि विभाग ने मक्का उत्पादक किसानों को सब्सिडी दर पर मशीनरी उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। विभाग के सूत्रों ने बताया कि राज्य में मक्के की खेती में कई गुना वृद्धि हुई है। इसे देखते हुए सरकार किसानों को मशीनरी खरीदने में सहायता प्रदान करेगी। वर्तमान में हुगली, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, बांकुड़ा, पुरुलिया पूर्व और पश्चिम मिदनापुर समेत कई जिलों में मक्के की खेती बहुत अधिक पैमाने पर हो रही है। वित्त वर्ष 2016-17 में जहां 3.52 लाख टन मक्के की खेती हुई थी जो 2017-18 में बढक़र 13.34 लाख टन पर पहुंच गई है। उत्तर बंग कृषि विवि. ने विकसित की मशीनरी-इस संदर्भ में राज्य के कृषि मंत्री प्रो. आशीष बनर्जी ने बताया कि राज्य में मक्के की खेती अप्रत्याशित रूप से बढ़ी है। किसानों को मक्के का ड_ा काटने और उसे अलग करने में अधिक मेहनत करनी पड़ती है। किसानों की परेशानी दूर करने के उ²ेश्य से उत्तर बंग कृषि विश्वविद्यालय ने आधुनिक स्तर की मशीन विकसित की है। मक्के की कटाई में यह काफी मददगार साबित होगा। कृषि विभाग रियायत दर पर किसानों को मशीन उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि अगले महीने से किसानों को इसका लाभ मिलने लगेगा।

Show More
Prabhat Kumar Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned