Mamta Banerjee's family and Coal Scam: सीबीआई टीम से पहले ममता बनर्जी कोयला घोटाले की आरोपी अपने सांसद भजीते की पत्नी से मिली

ममता बनर्जी की ओर से किसी बड़े घोटाले के आरोपी के समर्थन में खड़े होने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले राज्य के सबसे बड़ा सारधा चिटफंड घोटाले के आरोपी आईपीएस अधिकारी और कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार का भी खुल कर समर्थन किया। सारधा घोटाले के सबूत मिटाने के आरोपी राजीव कुमार के घर सीबीआई टीम के पहुंचने से पहले ममता बनर्जी उसके घर गई थीं।

By: Manoj Singh

Updated: 23 Feb 2021, 02:53 PM IST

कोयला घोटाले की आरोपी रूजिरा नरूला बनर्जी के साथ खड़े होने का दिया संदेश
एक घंटे तक हुई तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी से पूछताछ
कोलकाता
कोयला घोटाले मामले में समन जारी करने के बाद सीबीआई की विशेष टीम ने मंगलवार को इस घोटाले की आरोपी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिशेख बनर्जी की पत्नी रूजिरा नरूला बनर्जी से उनके घर पर पूछताछ की। लेकिन पूछताछ करने के लिए सीबीआई के जांच अधिकारियों से कुछ ही मिनट पहले पहले ममता बनर्जी कोलकाता के कालीघाट स्थित अपने घर से कुछ ही दूर अपने भतीजे के घर गई और रूजिरा नरूला बनर्जी से मुलाकात की। इस दिन सुबह दक्षिण कोलकाता में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद राज्य सचिवालय नवान्न जाते समय अचानक उनका काफिला कालीघाट इलाके के 118ए, हरिश चटर्जी स्ट्रीट स्थित उनके भतीजे के घर पहुंचा। ममता बनर्जी ने अभिषेक बनर्जी और रूजिरा नरूला बनर्जी के साथ 10 मिनट बातचीत की और बाहर चली आईं। मुख्यमंत्री के साथ उनके भतीजे की बेटी घर से बाहर आई और अपनी फुआ दादी को विदा कर वापस घर चली गई। इसके कुछ ही क्षण बाद रूजिरा नरूला बनर्जी से पूछताछ करने के लिए सीबीआई की विशेष टीम वहां पहुंची।
राजनीतिक गलियारे में कोयला घोटाले मामले में सीबीआई टीम के पूछताछ करने से पहले रूजिरा नरूला बनर्जी के मिलने को राजनीतिक रणनीति माना जा रहा है। उन्होंने इसके जरिए यह संदेश दिया कि वह इस मामले में अपने भतीजे और उसकी पत्नी के साथ खड़ी हैं। उन्हें विपक्षी दलों और अपनी पार्टी के भीतर से हो रहे विरोध का कोई परवाह नहीं है।
सारधा घोटाले के आरोपी आईपीएस के समर्थन में दी थी धरना
ममता बनर्जी की ओर से किसी बड़े घोटाले के आरोपी के समर्थन में खड़े होने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले राज्य के सबसे बड़ा सारधा चिटफंड घोटाले के आरोपी आईपीएस अधिकारी और कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार का भी खुल कर समर्थन किया। सारधा घोटाले के सबूत मिटाने के आरोपी राजीव कुमार के घर सीबीआई टीम के पहुंचने से पहले ममता बनर्जी उसके घर गई और वहां बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर सीबीआई के अधिकारियों को राजीव कुमार के घर नहीं जाने दिया गया। साथ ही इसको लेकर उन्होंने धर्मतल्ला में धरने पर बैठी थी।

Show More
Manoj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned