गोल्डन गर्ल स्वप्ना के भाई को सरकारी नौकरी का प्रस्ताव

गोल्डन गर्ल स्वप्ना के भाई को सरकारी नौकरी का प्रस्ताव

Prabhat Kumar Gupta | Publish: Sep, 05 2018 10:59:46 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली स्वप्ना बर्मन के भाई को सरकारी नौकरी देने का प्रस्ताव दिया है।


- मंगपू में नया विवि. के शिलान्यास के बाद बोली सीएम ममता बनर्जी

दार्जिलिंग/कोलकाता.
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली स्वप्ना बर्मन के भाई को सरकारी नौकरी देने का प्रस्ताव दिया है। दार्जिलिंग के मंगपू में बुधवार को राज्य की पहली ग्रीन फील्ड विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि इंडोनेशिया में हुए एशियाई खेलों की हेप्टाथलन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाली स्वप्ना बर्मन की मां को 10 लाख रुपए का चेेक सौंप दिया गया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार स्वप्ना के भाई को राज्य पर्यटन विभाग में नौकरी देना चाहती है। ममता ने दोहराया कि यदि एशियाई चैंपियन स्वप्ना सरकारी नौकरी करने की इच्छुक होती हैं तो उनका हमेशा स्वागत है। दार्जिलिंग के माल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने शिक्षक दिवस पर पहाड़ के शिक्षकों का सम्मान किया। कार्यक्रम शुरू होने से पहले मुख्यमंत्री ने पूर्व राष्ट्रपति डाक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन की तस्वीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

तेंजिंग नोरगे व कवि भानुभक्त के नाम पर कैम्पस-
मुख्यमंत्री ने कहा कि मंगपू में प्रस्तावि ग्रीन फील्ड विवि. में एवरेस्ट विजेता तेंजिंग नोरगे और नेपाली कवि भानु भक्त आचार्य के नाम पर दो अलग-अलग कैम्पस बनाए जाएंगे। ममता ने पहाड़ पर विश्व स्तर का विवि. का निर्माण होना एक ऐतिहासिक घटना करार दिया है। मुख्यमंत्री ने राज्य के योग्य खिलाडिय़ों के हितों में खेल मंत्री अरूप विश्वस को नई खेल नीति तैयार करने को कहा है।

पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा-
मुख्यमंत्री ने दार्जिलिंग, कर्सियांग और कलिम्पोंग में पर्यटन उद्योग को विश्व की श्रेणी में लाने के उद्देश्य से सरकार पहाड़ पर अगले साल एशियन संस्कृति उत्सव का आयोजन करने की घोषणा की है। ममता ने कहा कि सरकार पहाड़ के पर्यटन क्षेत्र के विकास को लेकर कटिवद्ध है। पहाड़ पर सैलानियों के हितों को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने काटेज तैयार करने के अलावा होम स्टे का सुझाव दिया था। जिसका पहाड़ के पर्यटन क्षेत्र में अनुकूल असर पड़ता दिख रहा है। मुख्यमंत्री उत्तर बंगाल की यात्रा के वक्त पर्यटन को बढ़ावा देती रही हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned