कोलकाता महारैली में चुनावी शंखनाद करेंगी ममता

ममता बनर्जी शनिवार को शहीद दिवस सभा के अवसर पर धर्मतल्ला में आयोजित महारैली में लोकसभा चुनाव का शंखनाद करेंगी।

By: Prabhat Kumar Gupta

Published: 20 Jul 2018, 09:52 PM IST

कोलकाता महारैली में चुनावी शंखनाद करेंगी ममता

शहीद दिवस सभा

- उमड़ेगी लाखों की भीड़, थम सकता है महानगर
कोलकाता.

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख तथा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शनिवार को शहीद दिवस सभा के अवसर पर धर्मतल्ला में आयोजित महारैली में लोकसभा चुनाव का शंखनाद करेंगी, पीएम मोदी के खिलाफ हुंकार भरेंगी। कथित साम्प्रदायिक शक्तियों एवं विभाजन की राजनीति के खिलाफ भाजपा विरोधी दलों को संदेश देंगी। माना जा रहा है कि ममता इस मजबूत मंच से ही बंगाल ही नहीं पूरे देश के लोगों से मोदी को अगले लोकसभा चुनाव में सत्ता से हटाने की अपील करेंगी। तृणमूल प्रमुख लाखों पार्टी कार्यर्ताओं को चुनाव प्रचार में कूदने की हिदायत देंगी। इस महारैली में लाखों पार्टी समर्थकों की रिकॉर्ड भीड़ उमडऩे के कारण महानगर थम सकता है। ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा सकती है। पार्टी के एक नेता के अनुसार ममता पहले शहीद हुए पार्टी कार्यकर्ताओं को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगी। फिर केन्द्र सरकार पर बड़ा हमला बोलेंगी। 1993 में पुलिस फायरिंग में मारे गए 13 पार्टी समर्थकों की याद में हर साल 21 जुलाई को ममता बनर्जी शहीद दिवस सभा का आयोजन करती हैं। राजनीति के जानकारों के अनुसार ममता भाजपा विरोधी दलों में एकजुटता का संदेश देंगी। राष्ट्रीय राजनीति को दिशा देने का प्रयास करेंगी। ताकि 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को शिकस्त दिया जा सके। ममता की इस महारैली पर दिल्ली की नजर भी टिकी हुई है। ममता ने दिसम्बर से पहले कोलकाता के ऐतिहासिक ब्रिगेड परेड मैदान में महारैली का आह्वान भी किया है। वह इस रैली के जरिए भाजपा के खिलाफ प्रस्तावित महागठबंधन समर्थक विपक्षी दलों के नेताओं को एक मंच पर लाने की कोशिश करेंगी।

------

सर्वश्रेष्ठ अनुभव-ममता

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आईआईटी खडग़पुर के दीक्षांत समारोह में उपस्थित होने को जीवन का सर्वश्रेष्ठ अनुभव बताया है। उन्होंने कहा कि समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द और पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी जैसी उज्ज्वल सोच रखने वाली हस्तियों के साथ कुछ पल के लिए मंच साझा करना एक स्मृतिपूर्ण और बेहतर अनुभव रहा है। आईआईटी, खडग़पुर का नाम पूरे विश्व में है। जिसकी गिनती विशेष स्थान के रूप में होती है। समारोह मंच से मुख्यमंत्री ने डिग्री पाने वाले सफल विद्यार्थियों के संदर्भ में कहा कि वह चाहती हैं कि आईआईटी के होनहार भविष्य में अपनी मातृभूमि (पश्चिम बंगाल) के लिए सेवा में आएं।

Prabhat Kumar Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned