Politics of bengal : बंगाल में जल्द गिरेगी ममता सरकार, जानिए क्यों

Politics of bengal : बंगाल में जल्द गिरेगी ममता सरकार, जानिए क्यों

Rabindra Rai | Publish: Jun, 24 2019 10:59:08 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

Pm Modi ने कहा था कि चुनाव नतीजे के बाद Didi आपकी पार्टी के विधायक एक एक कर साथ छोड़ देंगे। नौबत यहां तक आ जाएगी कि आपकी सरकार का बचना मुश्किल हो जाएगा।

कोलकाता. लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि चुनाव नतीजे के बाद दीदी आपकी पार्टी के विधायक एक एक कर साथ छोड़ देंगे। नौबत यहां तक आ जाएगी कि आपकी सरकार का बचना मुश्किल हो जाएगा। तब राजनीति के जानकारों ने मोदी के इस बयान को राजनीतिक बयान माना था। किसी को भरोसा नहीं था कि मोदी की यह बात सच साबित होगी। अब जिस तरह से एक एक कर तृणमूल विधायक पार्टी का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम रहे हैं, उससे मोदी की भविष्यवाणी के सही साबित होने की संभावना नजर आने लगी है। अलीपुरदुआर जिले के कालीचीनी के तृणमूल विधायक विल्सन चामपामारी के सोमवार को भाजपा में शामिल होने से ममता सरकार पर खतरे की घंटी बजती नजर आ रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया कि ममता सरकार राज्य में अपना बहुमत खो चुकी है। अगले विधानसभा सत्र में प्रदेश सरकार के विश्वास मत का परीक्षण होगा तब सरकार बहुमत प्राप्त नहीं कर सकेगी और राज्य में नई सरकार के बनने का रास्ता साफ हो जाएगा। घोष ने यह दावा तृणमूल के एक और विधायक के भाजपा की सदस्यता दिलाने के समय किया। गौरतलब है कि विल्सन चामपामारी और दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद की अध्यक्ष लिपिका राय समेत 10 जिला परिषद सदस्यों ने सोमवार को तृणमूल कांग्रेस से नाता तोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया। दक्षिण जिले के तृणमूल कांग्रेस नेता व दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष विप्लव राय भी भाजपा में शामिल हो गए। दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में उक्त सभी ने पश्चिम बंगाल के पार्टी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष, पार्टी नेता मुकुल राय एवं बैरकपुर के सांसद अर्जुन सिंह की उपस्थिति में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।18 सदस्यीय दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद अध्यक्ष समेत 10 सदस्यों के भाजपा में शामिल होने से बोर्ड पर भाजपा का दखल हो गया।
पूरी फिल्म अभी बाकी-मुकुल
कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद के और चार सदस्य उनकी पार्टी में शामिल होने को तैयार हैं। मुकुल राय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के बहुत से विधायक, जिला परिषद सदस्य, पार्षद भाजपा में शामिल होना चाहते हैं। अभी जो हो रहा है वो 'फिल्म का ट्रेलर है, पूरी फिल्म अभी बाकी है।Ó तृणमूल नेताओं के भाजपा में शामिल होने का सिलसिला सात चरणों में होगा। इसके बाद ममता सरकार अल्पमत में आकर गिर जाएगी।
छोड़ रहे साथ
उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव नतीजे के बाद तृणमूल विधायक ममता का साथ छोड़ रहे हैं। इससे पहले18 जून को बनगांव से तृणमूल विधायक विश्वजीत दास पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। इसके अतिरिक्त 12 पार्षदों ने भी टीएमसी छोड़कर भाजपा Óवाइन कर ली थी। इससे पहले भी नोआपाड़ा के तृणमूल विधायक सुनील सिंह ने 12 पार्षदों और एक कांग्रेस पार्षद के साथ भाजपा की सदस्यता ली थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned