ममता बनर्जी पाकिस्तान का हमदर्द, यूं खुली पोल...

ममता बनर्जी पाकिस्तान का हमदर्द, यूं खुली पोल...

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Aug, 13 2019 09:01:58 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

  • पाकिस्तान के एक बड़े नेता और रणनीतिकार मुशाहिद हुसैन ने क्या कहा...

कोलकाता

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने को लेकर पाकिस्तान की बौखलाहट के बीच एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें वहां के एक बड़े नेता और रणनीतिकार ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पाकिस्तान का हमदर्द बताया है। इसे लेकर भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई ने बनर्जी पर एक बार फिर पाकिस्तान परस्ती का आरोप लगाते हुए दावा किया है पाकिस्तानी नेता के बयान ने ममता बनर्जी की पाकिस्तान परस्ती पर मुहर लगा दी है।

सोशल साइट पर पाकिस्तान के एक बड़े टीवी चैनल पर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने पर हो रहे डिबेट का एक वीडियो वायरल हुआ है। डिबेट में बतौर पैनलिस्ट पाकिस्तान के मशहूर नेता और पत्रकार मुशाहिद हुसैन बैठे हुए हैं। मुशाहिद पाकिस्तान के मशहूर रणनीतिकार भी हैं। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को निष्प्रभावी कर उसे केंद्र शासित प्रदेश बनाने का जिक्र करते हुए एंकर उनसे पूछता है कि इस मामले पर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी हो गई है। कोई भी देश पाकिस्तान की मदद नहीं कर रहा। ऐसे में ऐसा क्या उपाय है कि जंग भी ना हो और कश्मीर भी भारत से आजाद हो जाए? इस पर जवाब देते हुए मुशाहिद हुसैन कहते हैं कि भारत एक बहुत बड़ा देश है, वहां बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी हैं जो नरेंद्र मोदी के खिलाफ हैं, उनमें अरुंधति राय, ममता बनर्जी, कांग्रेस, वामपंथी पार्टियां और दलित पार्टियां ऐसी हैं जो पाकिस्तान के लिए हमदर्द हैं। हमें ऐसे लोगों से संपर्क साधना होगा और अपने पक्ष में माहौल बनाना होगा।वीडियो के वायरल होने के बाद कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों के साथ-साथ ममता बनर्जी की कड़ी निंदा हो रही है। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि पार्टी काफी पहले से कहती रही है कि ममता बनर्जी पाकिस्तान परस्त हैं। पाकिस्तानी नेता के उक्त बयान ने पार्टी के दावे पर मुहर लगा दी। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया से पाकिस्तान को कोई समर्थन नहीं मिला, लेकिन भारत से ममता बनर्जी उनका मोहरा बन चुकी हैं। सिन्हा ने कहा कि यह पहली बार नहीं है बल्कि जब भी केंद्र सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कोई भी कदम उठाया है तो अगर किसी ने सबसे पहले उसके खिलाफ आवाज बुलंद की है तो वह ममता बनर्जी हैं। जब भी राष्ट्रहित में केंद्र सरकार का कोई फैसला होता है तो ममता बनर्जी उसका विरोध करने वाली पहली नेता होती हैं। मुशाहिद हुसैन के बयान ने इनकी पोल खोल दी है। सिन्हा ने कहा कि बंगाल के लोग उनसे उब चुके हैं। ममता बनर्जी की पाकिस्तान में ज्यादा लोकप्रिय हो रही हैं। उन्हें वहीं जाकर चुनाव लडऩे के बारे में सोचना चाहिए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned