तृणमूल से भाजपा में जाने वालों के खिलाफ ममता ने मैदान में उतारे अपने दिग्गज

बागियों के खिलाफ नेतृत्व देने उतरीं ममता, नंदीग्राम से ठोकी ताल

By: Krishna Das Parth

Published: 06 Mar 2021, 12:54 AM IST

कृष्णदास पार्थ

कोलकाता. राज्य में चुनावी बयार को देखते हुए तृणमूल कांग्रेस छोडक़र भाजपा में जानेवाले नेताओं को तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने कड़ी टक्कर देने के लिए सशक्त टीम बनाई है। इस टीम का भी वे खुद नेतृत्व कर रही हैं। वे स्वयं नंदीग्राम से शुभेंदु अधिकारी को ललकारते हुए मैदान में कूद पड़ी हैं। फिलहाल शुभेंदु अधिकारी भाजपा में जाकर हैवी वेट नेता बन गए हैं। पश्चिम बंगाल में भाजपा के कौन-कौन उम्मीदवार होंगे, इस संबंध में भी भाजपा उनसे सलाह-मशवीरा कर रही है। उम्मीदवारों की सूची तय करने के लिए भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने शुभेंदु समेत अन्य प्रदेश भाजपा के नेताओं को दिल्ली भी बुलाया है।
ये भी गए भाजपा में
शुभेंदु के अलावा टीएमसी से राजीव बनर्जी, वैशाली डालमिया, शीलभद्र और मिहिर भी भाजपा में जा चुके हैं। इनके खिलाफ ममता ने अपने दमदार लोगों को उतारा है।
नंदीग्राम से ममता के चुनावी मैदान में उतरने से यह सीट काफी महत्वपूर्ण हो गया है। नंदीग्राम के 'भूमिपुत्र' शुभेंदु अधिकारी अब भाजपा में हैं। संभवत: शुभेंदु को नंदीग्राम से ही भाजपा अपना उम्मीदवार बनाएगी। शुभेंदु के पार्टी छोडऩे पर ममता ने नंदीग्राम के तेखाली जनसभा से घोषणा की थी कि वे इस बार नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ेंगी। अपने नाम की घोषणा करने के साथ ही उन्होंने कहा कि वे जो कहती हैं, वे करती भी हैं।
राजीव बनर्जी जब तृणमूल में थे तब डोमजूर से जीते थे। उन्होंने विधायक और मंत्रालय से इस्तीफा दे दिया और इस समय वे भाजपा में हैं। उनके स्थान पर ममता ने कल्याण घोष को डोमजुर से तृणमूल का उम्मीदवार बनाया हैं।
दिग्गज नेता शीलभद्र दत्त ने पिछली बार बैरकपुर सीट से तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीता था। इस बार वे भाजपा में चले गए हैं। तृणमूल के स्टार उम्मीदवार राज चक्रवर्ती इस बार उनके खिलाफ ताल ठोगेंगे।
बाली से तृणमूल का टिकट पाने वाली वैशाली डालमिया भी भाजपा शिविर में हैं। उनके स्थान पर, पेशे से बाल रोग विशेषज्ञ चिकित्सक राणा चटर्जी को तृणमूल ने उम्मीदवार बनाया हैं।
इसी तरह मिहिर गोस्वामी के भाजपा में शामिल होने के बाद, इस बार तृणमूल ने दक्षिण बंगाल के कुचबिहार से अभिजीत दे भौमिक को उम्मीदवार बनाया है।
इस बार कड़ी टक्कर
शांतिपुर के विधायक अरिंदम भट्टाचार्य भाजपा में शामिल हो गए हैं। उनकी जगह अजय डे उम्मीदवार हैं। बनगांव उत्तर के विधायक विश्वासजीत दास भी भाजपा में हैं। उनके तृणमूल में लौटने के बारे में अफवाहों के बावजूद, वे अभी भी भाजपा में ही है। उनकी जगह तृणमूल ने श्यामल रॉय को उम्मीदवार बनाया है। भाजपा में हाल ही में शामिल हुए जितेंद्र तिवारी को इस बार तृणमूल की ओर से नरेंद्रनाथ चक्रवर्ती पांडवेश्वर चुनौती देंगे। बीजेपी में शामिल हुए कलना के विधायक बिस्वजीत कुंडू को तृणमूल के उम्मीदवार देवप्रसाद बाग इस बार टक्कर देंगे।
डायमंड हार्बर के विधायक दीपक हलधर अब भाजपा में हैं। उनके स्थान पर पन्नालाल हलधर को यहां से तृणमूल ने उम्मीदवार बनाया है।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned