नुसरत जहां ने किया दावा: निखिल जैन संग शादी कानूनी रूप से वैध नहीं

- टीएमसी सांसद बोलीं, तलाक लेने का सवाल ही नहीं उठता, बयान जारी कर कई खुलासे किए

By: Ashutosh Kumar Singh

Updated: 10 Jun 2021, 12:11 AM IST

कोलकाता

तृणमूल कांग्रेस सांसद और बांग्ला फिल्म अभिनेत्री नुसरत जहां ने आखिरकार अपना मुंह खोलते हुए दावा किया है कि निखिल जैन संग उनकी शादी कानूनी रूप से वैध नहीं है। इसलिए तलाक लेने का सवाल ही नहीं उठता। उन्होंने एक बयान जारी कर कई खुलासे किए हैं। उन्होंने कहा कि विदेशी भूमि होने के कारण तुर्की विवाह नियमन के अनुसार हमारी शादी अमान्य है। इसके अलावा ये दो धर्मों के लोगों के बीच में हुई शादी थी, इसलिए इसे भारत में इसे वैधानिक मान्यता देने की जरूरत थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए तलाक का सवाल ही नहीं उठता। कानूनी तौर पर यह शादी वैध नहीं है बल्कि लिव-इन रिलेशनशिप है। नुसरत ने कहा है कि वे और निखिल जैन बहुत पहले ही अलग हो गए थे, वह अपनी निजी जिंदगी को अपने तक ही सीमित रखना चाहती थी, इसलिए इस बारे में चुप थीं।
नुसरत जहां और बिजनेसमैन निखिल जैन की शादी साल 2019 में हुई थी। तुर्की में दोनों परिणय सूत्र में बंधे थे। दोनों की शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थीं। बाद में नवदम्पती ने कोलकाता में समारोह का आयोजन किया। इसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी पहुंची थीं। खबरों के अनुसार लगभग छह महीने से दोनों अलग रह रहे हैं। हाल ही में नुसरत जहां के गर्भवती होने की खबरें सामने आई थी जिसपर निखिल ने कहा था कि उन्हें नुसरत के गर्भवती होने की जानकारी नहीं है। अगर ऐसा है तो वो बच्चा उनका नहीं है। वे दोनों छह महीने से साथ नहीं हैं।
--
निखिल पर पैसे निकलने का आरोप
नुसरत जहां ने निखिल जैन पर अपनेबैंक खाते से पैसे निकलने का आरोप लगाया है। उन्होंने बयान में लिखा है कि जो शख्स खुद को रईस बताकर कह रहा है कि मैंने उसका इस्तेमाल किया, वह रात के किसी भी समय गैर-कानूनी रूप से मेरे बैंक खाते से पैसे लेता है। अलग होने के बाद भी यह जारी है। मैंने उचित बैंकिंग प्राधिकरण को इस संदर्भ में पहले ही बता दिया है और बहुत जल्द एक पुलिस थाने में शिकायत भी दर्ज की जाएगी।
--
मेरे पुस्तैनी गहने निखिल के पास
नुसरत ने निखिल जैन पर अपने पुस्तैनी गहने रोककर रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि मुझे यह बताने में दुख हो रहा है कि मेरे पुश्तैनी गहने जो मेरे परिवार वालों ने मुझे तोहफे में दिए थे, वो सब निखिल के पास हैं। मेरे कुछ कपड़े और बैग भी उनके पास है। नुसरत ने साफ किया कि उनके या उनके परिवार के खर्चे या उनकी बहन की पढ़ाई का खर्च जैसी सभी जरूरतें वे खुद ही पूरी करती आई हैं और इसके लिए वे किसी से पैसे नहीं लेती हैं।
--
इनका कहना है
मैं कुछ नहीं बोलना चाहता हूं। मामला अदालत में विचाराधीन है, इसलिए कुछ कहना ठीक नहीं होगा। मैं उन्हें (नुसरत जहाँ) को क्या दिया है, ये मैं जनता हूं और वो भी जानती हैं।
निखिल जैन

Ashutosh Kumar Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned