कार पार्क करने से रोका तो एमआईसी लेट गए रास्ते पर

विधाननगर : कारपोरेशन बिल्डिंग के दरवाजे पर एक घंटे तक रहे पड़े

यात्री सेवा व सुरक्षा हमारी प्राथमिकता - हरेन्द्र राव

By: Krishna Das Parth

Published: 25 Apr 2018, 11:25 PM IST

- विधाननगर : कारपोरेशन बिल्डिंग के दरवाजे पर एक घंटे तक रहे पड़े

- कहा, अब कभी नहीं आएंगे निगम के भवन में
साल्टलेक. विधाननगर नगर निगम के एमआईसी राजेश चिड़ीमार को गाड़ी पार्किंग करने से रोका तो विरोध जताते हुए वे रास्ते पर ही लेट ए। लगभग एक घंटे तक विरोध जताने के बाद कहा कि वे अब निगम कार्यालय कभी नहीं आएंगे। सूत्रों के अनुसार विधाननगर के शिक्षा विभाग के एमआईसी राजेश निगम कार्यालय में गए तो वहां खड़े सुरक्षा प्रहरी ने गाड़ी पार्क करने से रोक दिया गया। कहा यह जगह डिप्टी मेयर की गाड़ी की है आप यहां गाड़ी पार्क नहीं कर सकते। इससे वे नाराज हो गए। खुद को अपमानित महसूस करते हुए विरोध जताया। वे निगम कार्यालय के मुख्य गेट पर सो गए। लगभग एक घंटे तक लेटे रहे। लोगों की भीड़ जमा हो गई और सभी उनको समझाने लगे। उन्होंने दुख प्रकट करते हुए बताया कि यह पहले भी उनको पार्किंग करने से रोका गया है। अब वे निगम के कार्यालय में कभी नहीं आएंगे। इसके बाद वे ऑटो पर सवार होकर घर चले गए।

(कार्यालय संवाददाता)
---
यात्री सेवा व सुरक्षा हमारी प्राथमिकता - हरेन्द्र राव

फोटो है
-पूर्व रेलवे ने मनाया ६३वां रेल सप्ताह

कोलकाता

भारत की सबसे बड़ी यातायात व्यवस्था भारतीय रेल के यात्रियों की सेवा व सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। यात्रियों की सुरक्षा व सेवा के लिए पूर्व रेलवे निरंतर काम कर रहा है। पूर्व रेलवे के क्षेत्र में प्रतिदिन 30 लाख यात्री सफर करते हैं। पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक हरेन्द्र राव ने 63 वें रेलवे सप्ताह समारोह पर बुधवार को बी.सी.राय ऑडिटोरियम में यह बातें कही। महाप्रबंधक राव ने क हा कि यात्रियों से जुड़ी हर समस्या पर हमारा विशेष ध्यान है। निरीक्षण बढ़ाने से दुघर्टनाओंं में कमी आई है। पूर्व रेलवे का हरसंभव प्रयास है यात्रियों को बेहरतर सेवा दें। इस अवसर पर 63वें रेल सप्ताह का एक बुकलेट भी जारी किया गया। कार्यक्रम में गीती लाहिड़ी व उनकी टीम ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में विशिष्टजनों में महाप्रबंधक हरेन्द्र राव की पत्नी विमला राव, अतिरिक्त महाप्रबंधक सुचित्त कुमार दास, डीआरएम प्रभास दंसाना, सियालदह स्टेशन प्रबंधक आनंद बद्र्धन सहित कई लोग उपस्थित थे।

महसूस करें गर्व

महाप्रबंधक राव ने कहा कि भारतीय रेलवे देश के सबसे बड़ी परिवहन व्यवस्था है। रेलवे 2.75 क रोड़ यात्रियों को सेवा देती है। निजी नौकरी के क्षेत्र में सेवा भाव नहीं है। इसलिए रेलवे से जुड़े हर छोटे या बड़े कर्मचारी को गर्व महसूस करना चाहिए कि वे रेलवे से जुड़े हैं। इस अवसर पर रेलवे के क ई अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।

एक झलक में पूर्व रेलवे

-पूर्व रेलवे - कुल टे्रनें 2500

-कुल स्टेशन - 573
-कुल कर्मचारी - 1.1लाख

-कुल यात्री - 30 लाख (प्रतिदिन)

 

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned