Super power india: मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' मिशन से देश बनेगा 21 वीं सदी की बड़ी शक्ति-मेघवाल

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन सिंह मेघवाल ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' मिशन को देश के 21 वीं सदी की बड़ी शक्ति बनने का दावा किया। मोदी के मिशन के जरिए क्या इंडिया बना पाएगा आत्मनिर्भर भारत। मेघवाल के दावे में कितना दम है।

By: Manoj Singh

Published: 01 Jul 2020, 12:00 AM IST

महात्मा गांधी के आत्मनिर्भर भारत के नारे से कितना अलग ले प्रधानमंत्री का आत्मनिर्भर भारत मिशन
कोलकाता
केन्द्रीय मंत्री अर्जुन सिंह मेघवाल ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' मिशन को देश के 21 वीं सदी की बड़ी शक्ति बनने का दावा किया। मोदी के मिशन के जरिए क्या इंडिया बना पाएगा आत्मनिर्भर भारत। मेघवाल के दावे में कितना दम है।
पश्चिम बंगाल के लिए आयोजित आभासी रैली में मोदी सरकार-2 के एक साल का प्रगति रिपोर्ट ले कर हाजिर हुए अर्जुन सिंह मेधवाल ने कहा कि 1894 में स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में कहा था कि 21वीं सदी भारत का होगा और प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश 21वीं सदी का आत्मनिर्भर भारत बनने जा रहा है। मोदी का 'आत्मनबीर भारत' मिशन दुनिया में देश को इस सदी की बड़ी शक्ति बनाएगा। वे दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय से आभासी रैली को संबोधित कर रहे थे। रैली में केन्द्रीय पर्यावरण राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो के अलावा कोलकाता स्थित प्रदेश भाजपा मुख्यालय से पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा और अन्य ने रैली को संबोधित किया।
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान का जवाब देते हुए मेघवाल ने मोहन दास करमचंद्र गाधी के आत्मनिर्भर के नारे से पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत के नारे को अलग करार दिया। आभासी रैली में शामिल लोगों से उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के आत्मनिर्भर भारत के नारे से अलग है। गंधीजी ने ग्रामीण विकास कर भारत को आत्मनिर्भर बनाने का नारा दिया था। लेकिन देश के प्रथम प्रधानमंत्री बनने के बाद पंडित जवाहर लाल नेहरू ने ग्रामीण विकास को भूल गए। उन्होंने शहरों और औद्योगिक विकास करने पर ध्यान दिया था, लेकिन वह भी सफल नहीं हुआ। दूसरी बार लाल बहादुर शास्त्री ने कृषि क्षेत्र का विकास कर देश को आत्मनिर्भर करने का नारा दिया था। लेकिन पीएम मोदी ने सभी क्षेत्रों में भारत को आत्मनिर्भर बनाने का मिशन बनाया है। मोदी का इरादा देश को हर पहलू से आत्मनिर्भर बनाने का है।
इस दौरान उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की ओर से 'आत्मनिर्भर भारत' मिशन के तहत सूक्ष्म, लघु और मध्यम (एमएसएमई) वर्ग के उद्योगों के विकास योजना को शब्द जाल और जमीन पर नहीं आने वाली योजना कहे जाने को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि टीवी में उन्होंने ममता बनर्जी को 'आत्मनिर्भर भारत' को शब्द जाल कहते हुए सुना है। लेकिन ममता दीदी ये जान लें कि यह शब्द जाल नहीं है। एमएसएमई के विकास योजना को जमीन पर उतारने के लिए तेजी से काम किया जा रहा है।
मेघवाल ने कहा कि मोदी सरकार-2 के एक साल की प्रगति रिपोर्ट पेश करते हुए संविधान की अनुच्छेद 370 और 35ए को हटा कर जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता प्रसस्त होने, नागरिकता संशोधन अधिनियम और ट्रिपल तालक पर प्रतिबंध लगाने वाला कानून बनाने को ऐतिहासिक फैसला करा दिया।
- ममता को संविधान में विश्वा नहीं
मेधवाल ने कहा कि ममता बनर्जी को भारतीय संविधान में विश्वास नहीं है। वे राज्यपाल जगदीप धनखड़ को विश्वविद्यालयों में नहीं जाने दे रही है, जिसके वे कुलपति हैं। संविधान बनाने वाले कभी भी ऐसा सोचा भी नहीं होगा कि कोई मुख्यमंत्री राज्यपाल को विश्वविद्यालय में नहीं जाने देगी। वे कभी भी मुख्यमंत्री की भूमिका में बोलते हुए नहीं सुनी गई। उन्होंने हमेशा से तृणमूल कांग्रेस प्रमुख की भूमिका निभाती नजर आती हैं। ममता बनर्जी बंगाल की सत्ता में आने के लिए 'मा, माटी, मानुष' (मां, मिट्टी और लोग) का नारा दिया था, लेकिन 'तीनों अब संकट में हैं'। लोग मोदी के शुरू किए गए विकास और उन्नति के फल का आनंद लेने के लिए 2021 के बंगाल के विधानसभा चुनाव में भाजपा को आशीर्वाद देने के लिए तैयार है। वर्ष 2019 हाफ हुआ और 2021 के विधानसभा चुनाव में बंगाल से साफ हो जाएंगी। केंद्रीय राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी ममता बनर्जी पर मुख्यमंत्री के रूप में राज्य की बागडोर संभालने के बावजूद तृणमूल कांग्रेस प्रमुख के रूप में काम करने का आरोप लगाया। सुप्रियो ने कहा कि ममता बनर्जी ने हमेशा तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो की तरह व्यवहार किया है। दीदी ने उन सभी को अपनाया जो वाम शासन के तहत बुरे थे और उन लोगों को अधिक ऊंचाइयों पर ले गए,

Manoj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned