अब पानी के लिए नहीं भटकेंगे शेर

गिर अभयारण्य में बने 400 से ज्यादा कृत्रिम कुंड

By: MOHIT SHARMA

Updated: 02 Apr 2021, 11:55 PM IST

गांधीनगर . एशियाई शेरों के एकमात्र शरणगाह गुजरात के गिर अभयारण्य में 400 से ज्यादा कृत्रिम कुंड (वाटर ह्रश्ववाइंट) बनाए गए हैं। गर्मी के मौसम को देखते हुए गिर अभ्यारण्य में एशियाई शेरों व अन्य वन्य जीवों को पानी के लिए कृत्रिम कुंड काफी मददगार साबित होंगे। केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी। इसमें कहा गया कि ुजरात के गिर राष्ट्रीय पार्क में 400 से ज्यादा वॉटर ह्रश्ववाइन्ट्स बना दिए गए हैं। इसके चलते न सिर्फ एशियाई शेरोंबल्कि अन्य वन्य जीवों को पानी

पीने की किल्लत नहीं होगी। ऐसे वाकये अ€सर सामने आते हैं कि पानी-भोजन की तलाश में शेर रिहायशी इलाकों में घुस जाते है और मवेशियों को शिकार बन लेते हैं। हालांकि यहां पर कृत्रिम कुंड बनाए गए हैं, जिसकी संख्या अब बढ़ा दीगई है। जिससे एशियाई शेरों या अन्य वन्यजीवों को गर्मी में पानी के अभाव में भटकना नहीं पड़े। गुजरात का गिर अभयारण्य ही है जहां एशियाई शेर पाए जाते हैं। इन एशियाई शेरों को देखने के लिए हर वर्ष देश-विदेश से हजारों सैलानी आते हैं।

MOHIT SHARMA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned