बिजनेस समिट : मुकेश अम्बानी ने दिए बंगाल को यह सौगात

बिजनेस समिट : मुकेश अम्बानी ने दिए बंगाल को यह सौगात

Prabhat Kumar Gupta | Publish: Feb, 07 2019 04:37:18 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

पश्चिम बंगाल सरकार के सौजन्य से आयोजित बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट-2019 में देश विदेश के कई नामचीन उद्यमी शामिल हुए। गुरुवार से शुरू हुए समिट में उपस्थित होकर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के कर्णधार मुकेश अम्बानी ने अपना दरिया दिली दिखाते हुए राज्य में 10 हजार करोड़ रुपए निवेश करने की घेषणा कर दी।


- 10 हजार करोड़ का निवेश करने की घोषणा की
कोलकाता.
पश्चिम बंगाल सरकार के सौजन्य से आयोजित बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट-2019 में देश विदेश के कई नामचीन उद्यमी शामिल हुए। गुरुवार से शुरू हुए समिट में उपस्थित होकर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के कर्णधार मुकेश अम्बानी ने अपना दरिया दिली दिखाते हुए राज्य में 10 हजार करोड़ रुपए निवेश करने की घोषणा कर दी। यह निवेश पेट्रोलियम और खुदरा कारोबार में किया जाएगा। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अध्यक्षता में न्यूटाउन स्थित विश्व बांग्ला कन्वेंशन सेंटर में शुरू हुई समिट में अम्बानी ने अगले दो साल के भीतर उक्त निवेश होने की बात कही। उन्होंने बताया कि वह राज्य में पेट्रोलियम और दूरसंचार के व्यवसाय में निवेश करेंगे। इसके माध्यम से वह इलेक्ट्रोनिक्सउत्पाद को भी प्रोत्साहित करेंगे। उन्होंने स्पष्ट आया कि आरआईएल बंगाल में पेट्रोलियम और दूरसंचार के व्यवसाय में 28 हजार करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। उन्होंने समिट के आयोजन के लिए राज्य की मुख्यमंत्री बनर्जी की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि बनर्जी के नेतृत्व में राज्य में बिजनेस का अनुकूल माहौल तैयार हुआ है। यही कारण है कि देश विदेश के उद्यमियों की प्राथमिकता पश्चिम बंगाल है। यहां निवेश की संभावना भी है। अम्बानी का मानना है कि वर्तमान परिदृश्य में बंगाल देश की प्रगति में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। कोलकाता उम्मीदों का शहर है और ममता बनर्जी के नेतृत्व में बंगाल 'वेस्ट बंगाल' से 'बेस्ट बंगाल' बनने की ओर अग्रसर है।
समिट में अपने वक्तव्य में अम्बानी ने कहा कि गत वर्ष हुए बिजनेस समिट में उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री बनर्जी के कुशल नेतृत्व के कारण ही पश्चिम बंगाल 'बेस्ट' बंगाल' की ओर अग्रसर हो रहा है। वर्तमान में ये बात सच साबित हो रही है। बंगाल के विकास के पथ पर बढऩे का असर पूर्वी भारत पर भी पड़ा है। उनके अनुसार पश्चिम बंगाल का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 10 लाख करोड़ का आंकड़ा पार कर गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned