व्यवसायी की गोली मारकर हत्या

बी.गार्डन थानान्तर्गत शालीमार भिड़ेन मोड़ के पास व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी गई

By: Paritosh Dube

Published: 23 Dec 2015, 11:29 PM IST

हावड़ा
हावड़ा जिले के बी.गार्डन थानान्तर्गत शालीमार भिड़ेन मोड़ के पास मंगलवार देर रात एक व्यवसायी की धारदार हथियार और गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना से इलाके में तनाव है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक मृतक का नाम सुन्दर साव (45) है। वह मूल रूप से बिहार का निवासी था। घटना देर रात डेढ़ बजे की है। सुन्दर साव पेशे से सब्जी का व्यवसाय करता था। भिड़ेन मोड़ इलाके में उसकी दुकान व घर है। बताया जा रहा  है कि वह सब्जी व्यवसाय के साथ अवैध रूप से शराब की बिक्री भी करता था। कुछ लोगों को इसकी भनक भी थी। सुन्दर का बी.गार्डन और भिड़ेन मोड़ दोनों जगहों पर घर है। कभी परिवार के साथ बी.गार्डन तो कभी भिड़ेन मोड़ इलाके के घर में रहता था। 
उसके परिजनों का कहना है कि देर रात कुछ अज्ञात लोग उसकी दुकान के पास पहुंचे और बाहर से शोर मचाने लगे। बताया जा रहा है कि वे शराब की मांग कर रहे थे, लेकिन सुन्दर दुकान बंद की बात कहकर नहीं खोल रहा था। जैसे ही उसने दरवाजा खोलकर बाहर आया हमलावरों ने उस पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। चीख सुनकर उसके परिजन बाहर आए और बचाने की कोशिश की, तो हमलावरों ने उनपर भी हमला कर दिया। सुन्दर की पत्नी संगीता देवी को धारदार हथियार से मारने की कोशिश की, तभी उनकी पुत्री रिंकू साव बचाने के लिए आगे बढ़ी। इतने में हमलावरों ने सुन्दर की पीठ में गोली दाग दी। वाहन में बैठकर फरार हो गए। सुन्दर को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। 
डॉक्टर की तत्परता होती तो बच जाती जान
सुन्दर की बेटी रिंकू कुमारी का दावा है कि जब उसके पिता सुन्दर को गंभीर हालत में साउथ स्टेट जनरल अस्पताल ले जाया गया तब वे जिंदा थे, लेकिन डॉक्टरों ने जान बचाने की बजाय पहले कागजी कार्रवाई की। तब तक उसकी आंखों के सामने ही उसके पिता की सांसें थम गई। अगर तुरंत इलाज होता, तो शायद पिता की जान बच जाती। 
गवाही दी थी इसलिए की गई हत्या!
ठीक एक साल पहले उसी इलाके में एक जने की हत्या हुई थी। उस मामले में सुन्दर राय ने आरोपी के खिलाफ कोर्ट में गवाही दी थी। पुलिस संदेह जता रही है कि कहीं उसी मामले में आरोपी के लोगों ने उसकी हत्या की है, क्योंकि वह आरोपी उसकी गवाही के बाद से जेल में है। उसी के गैंग के किसी ने उसकी हत्या की है। फिलहाल पुलिस उस आरोपी से जुड़े लोगों का भी पता लगा रहा है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। 
Paritosh Dube Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned