scriptNational award to Mamta's dream project 'Duare Sarkar' | West Bengal: ममता के ड्रीम प्रोजेक्ट 'दुआरे सरकार' को राष्ट्रीय सम्मान | Patrika News

West Bengal: ममता के ड्रीम प्रोजेक्ट 'दुआरे सरकार' को राष्ट्रीय सम्मान

केन्द्र सरकार ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अनूठी पहल 'दुआरे सरकार' योजना को सम्मानित किया है। मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता दुआरे सरकार को भारत सरकार का 'एक्सेलेंस अवार्ड' मिला है। तृणमूल ने अपने ट्वीट में लिखा है कि लोगों को उचित सेवाएं प्रदान करना बंगाल सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। सत्तारूढ़ दल उक्त राष्ट्रीय सम्मान राज्य के लोगों समर्पित करता है।

कोलकाता

Published: January 05, 2022 02:03:10 am

केन्द्र सरकार ने दिया अवार्ड ऑफ एक्सेलेंस

कोलकाता।

पश्चिम बंगाल सरकार की एक और परियोजना को राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिली है । केन्द्र सरकार ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अनूठी पहल 'दुआरे सरकार' योजना को सम्मानित किया है। तृणमूल कांग्रेस ने अपने ट्वीट में लिखा कि मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता दुआरे सरकार को भारत सरकार का 'एक्सेलेंस अवार्ड' मिला है। 19 वीं कंप्यूटर सोसाइटी ऑफ इंडिया (सीएसआई) एसआईजी ई-गवर्नेंस अवार्ड्स 2021 की परियोजना श्रेणी के तहत उक्त सम्मान मिला है। तृणमूल ने अपने ट्वीट में लिखा है कि लोगों को उचित सेवाएं प्रदान करना बंगाल सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। सत्तारूढ़ दल उक्त राष्ट्रीय सम्मान राज्य के लोगों समर्पित करता है।

5 साल से फरार वारंटी को पकडऩे पुलिस बनी प्राइवेट फाइनेंसर
5 साल से फरार वारंटी को पकडऩे पुलिस बनी प्राइवेट फाइनेंसर

बहुत कम दिनों में मिली सफलता

इससे पहले भी केन्द्र ने कई बार राज्य की कई परियोजनाओं को विभिन्न श्रेणियों के तहत 'स्कॉच अवार्ड' दिया है। लेकिन दुआरे सरकार ने बहुत ही कम समय में अपनी अपूर्व सफलता के लिए केंद्र का ध्यान आकर्षित किया है। मुख्यमंत्री ने 2021 के विधानसभा चुनाव के समय इसे शुरू करने का वादा किया था और लागातार तीसरी बार सत्ता में आने के बाद उन्होंन इसे लागू।भी कर दिया । अब तक दुआरे सरकार के दो बार शिविर लग चुके हैं। कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण जनवरी में होने वाले दुआरे सरकार शिविर को फरवरी में लगाने की घोषणा की गई है।

आमजन को निशुल्क मदद

आमजन को राज्य की कल्याणकारी योजना के लाभ पहुचाने के लिए राज्य सरकार समय-समय पर राज्य भर में दुआरे सरकार के शिविर लगाती है।
इन शिविरों में राज्य के खाद्य साथी, स्वास्थ्य साथी, एथनिक जाति प्रमाण पत्र, शिक्षाश्री, कन्याश्री और रूपश्री सहित कुल 10 परियोजनाओं के लाभ आम लोगों तक पहुंचाने के लिए उनके नाम दर्ज किए जाते हैं। उक्त योजनाओं के तहत आम लोगों को मुफ्त में विभिन्न तरह की सुविधाएं और आर्थिक मदद दी जाती है। इनमें केन्द्र की सौ दिन रोजगार योजना भी शामिल है। शिविरों में उक्त परियोजनाओं से संबंधित लोगों की शिकायतें सुनी और उनका समाधान।भी किया जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.