अब रनवे को खाली करने में लगेंगे 42 सेंकेण्ड

- हवाई अड्डे के रनवे पर रोमियो को डीजीसीए ने दिखाई हरी झण्डी

By: Vanita Jharkhandi

Updated: 27 Nov 2019, 03:00 PM IST

 


कोलकाता . नेताजी सुभाष चन्द्र बोस अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर लगातार विमानों और यात्रियों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में एक विमान को हवाई अड्डे के रनवे पर उतरने के बाद टैक्सी वे तक जाने तथा रनवे को खाली करने के लिए ढाई मिनट का समय लगता था जो रोमियो के शुरू हो जाने के बाद मात्र 42 सेकेंड रनवे से विमान को हटाना सम्भव हो जाएगा। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार डीजीसीए यानी डायरेक्टर जनरल आफ सिविल एविएशन की ओर से इस टैक्सी वे को चालू करने की अनुमति मिल गई है। नए इस टैक्सी वे का नाम रोमियो रखा गया है। इसके चालू होने से रनवे से विमानों को जल्दी से खाली करना आसान होगा। साथ ही काफी कम समय में विमानों की आवाजाही अधिक हो पाएगी। अब तक विमान के रनवे पर उतरने के बाद ढाई मिनट का समय लगता था उसे टैक्सी वे तक पहुंचाने में। अब रोमियों की वजह से मात्र 42 सेंकेड का समय लगेगा। यह सुविधा बिराटी की ओर से आने वाले विमानों को मिलेगी। सूत्रों के अनुसार फिलहाल प्रति घंटे में 35 विमानों की आवाजाही होती है। नए टैक्सी वे रोमियो के चालू होते ही उसकी संख्या में इजाफा होगा और संख्या 42 हो जाएगी। सूत्रों के अनुसार पहले विमानों को जिसकी गति 250 से 300 किलोमीटर की रहती है और रनवे में उतरते वक्त विमानों की गति को काफी कम करना पड़ता था। तकरीबन शून्य के करीब गति को लाकर उसे टैक्सी वे में ले जाना होता था। वही रोमियो को चालू होने पर विमानों की गति 90 किलोमीटर की रफ्तार में होने पर भी सीधे टैक्सी वे की ओर जाने में सक्षम होगी। पहले एक विमान के उतरने व टैक्सी वे तक जाने के दौरान यदि कोई दूसरा विमान आता है तो उसे तुरन्त ही उतरने की इजाजत नहीं दे पाते और उसे आसमान में चक्कर लगाना पड़ता है जिसके कारण अतिरिक्त ईंधन का भी नुकसान होता। अब इस नए टैक्सी वे के चालू होने से कम हो जाएगा। इस सप्ताह नए टैक्सी वे को चालू करने के लिए हवाई अड्डा प्राधिकरण को नोटिस दिया जाएगा।

Vanita Jharkhandi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned