पश्चिम बंगाल: बाबरी मस्जिद काण्ड को बर्बर कहने वाले नेता का ट्वीटर अकाउंट बंद किया...

पश्चिम बंगाल: बाबरी मस्जिद काण्ड को बर्बर कहने वाले नेता का ट्वीटर अकाउंट बंद किया...
पश्चिम बंगाल: बाबरी मस्जिद काण्ड को बर्बर कहने वाले नेता का ट्वीटर अकाउंट बंद किया...

Prabhat Kumar Gupta | Updated: 12 Oct 2019, 07:49:31 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

माकपा पोलित ब्यूरो के वरिष्ठ सदस्य तथा पूर्व सांसद मोहम्मद सलीम का ट्वीटर अकाउंट अचानक बंद कर दिया गया। पार्टी ने इसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है।


- आरोप भाजपा पर
कोलकाता.
माकपा पोलित ब्यूरो के वरिष्ठ सदस्य तथा पूर्व सांसद मोहम्मद सलीम का ट्वीटर अकाउंट अचानक बंद कर दिया गया। पार्टी ने इसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि भाजपा ने इस मामले में उनकी कोई भूमिका नहीं होने का दावा किया है। उल्लेखनीय है कि सलीम ने गत 5 अक्टूबर को बाबरी मस्जिद के संबंध में पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बसु के बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया था। माकपा का आरोप है कि भाजपा के आईटी सेल ने तब से सलीम का ट्वीटर अकाउंट बंद कर दिया है। भाजपा ने इस तरह के आरोपों को गलत बताया है।

इस संदर्भ में प्रदेश भाजपा आईटी सेल के प्रमुख उज्जवल शेख ने बताया किपार्टी की ओर से इस तरह की कोई शिकायत नहीं की गई है। शिकायत करने का सवाल ही नहीं उठता। माकपा को ऐसा क्यों लगा कि भाजपा के आईटी सेल ने ही उनके नेता के ट्वीटर के खिलाफ शिकायत की है, यह माकपा नेता ही बता सकते हैं। उज्जवल ने कहा कि भाजपा का आईटी सेल के किसी भी व्यक्ति ने सलीम के ट्वीटर हैंडल के खिलाफ कोई रिपोर्ट नहीं की है।

पूर्व सीएम ज्योति बसु ने बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के दौरान भाजपा को 'बर्बर और असभ्य कहा था। सलीम ने ट्वीटर पर बसु के उन शब्दों के हवाले से लिखा कि "हमने रामकृष्ण और विवेकानंद के आदर्शों से जुड़ी वाणी को भी पढ़ा है। उन महापुरुषों ने कभी यह नहीं कहा कि यदि आप अपने धर्म से प्यार करते हैं, तो दूसरे धर्म के लोगों को चोट पहुंचाओ। पश्चिम बंगाल के लोगों को बर्बरता और असभ्यता के खिलाफ पूरे राज्य में विरोध के स्वर उठाने चाहिए।"
भाजपा को कटघरे में लाया:
पूर्व सांसद सलीम ने पत्रिका को बताया कि शनिवार सुबह जब उन्होंने ट्वीट करना चाहा तो पाया कि उनका अकाउंट बंद कर दिया गया है। उन्होंने इसके लिए सीधे भाजपा को कटघरे में लाया है। सलीम ने कहा कि मुर्शिदाबाद के जियागंज में तिहरे हत्याकाण्ड को लेकर सोशल नेटवर्क पर जब वे लोग (भाजपा) घिनौना प्रचार कर रहे हैं, वीडियो बनाकर लोगों में भ्रम फैला रहे हैं तब राज्य सरकार का आईटी सेल हाथ पर हाथ धरे बैठा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned