बड़ाबाजार से 8.5 किलो सोना व 5 लाख रुपए चोरी करने वाला गिरफ्तार

आरोपी के पास से 1 किलो सोना व 2 लाख 82 हजार रुपए बरामद
आभूषण की दुकान से की थी चोरी

 

By: Krishna Das Parth

Published: 16 May 2018, 10:39 PM IST

पोस्ता थानांतर्गत हरिराम गोयनका स्ट्रीट स्थित आभूषण की दुकान से 8.5 किलो सोना व 5 लाख रुपए की चोरी के मामले में पुलिस ने 1 जने को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम गौतम साहू है। उसके भाई उत्तम साहू से पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस ने इनके पास से 2 लाख 82 हजार नकद व 1 किलो सोना इनके घर (मदन चटर्जी लेन, ग्रीस पार्क) से बरामद किया है।

गौरतलब है कि 9 मई को बसंत कुमार सोनी ने पोस्ता थाने में अपनी दुकान से 8.5 किलो सोना व 5 लाख रुपए नकद चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने अपने स्टाफ आनंद कुमार पर संदेह जताया था। दुकान मालिक ने पुलिस को बताया कि आनंद ही दुकान को बंद करता और खोलता था। 9 मई को दुकान उसी ने बंद की थी। 10 मई को दुकान खोलने में देरी होने पर उन्होंने आनंद को फोन किया। आनंद का फोन बंद था। काफी समय बीतने पर उन्हें शक हुआ। दुकान खोलने पर पाया कि दुकान से 8.5 किलो सोना व 5 लाख रुपए गायब हैं। उन्होंंने इसकी जानकारी पोस्ता थाने को दी। जांच में गौतम साहू व उत्तम साहू के नाम सामने आया। बताया जाता है कि आनंद दुकान में हाथ सफाई करने के बाद गौतम के सम्पर्क में था। आनंद की तलाश पुलिस कर रही है। वहींं इस घटना में उत्तम की भूमिका थी या नहीं पुलिस इसकी जांच कर रही है।

चोर के संदेह में 1 गिरफ्तार

कोलकाता

पोर्ट इलाके से पुलिस ने चोर के संदेह में 1 जने को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम नौशाद है। उसके पास से पुलिस ने 1 लैप टॉप, 11 मोबाइल फोन और एक आईपैड जब्त किए गए। उसके पास ये सामान कैसे आए, इसकी जानकारी वह नहीं दे पाया। पुलिस ने संदेह के आधार पर नौशाद को गिरफ्तार कर लिया।
---
एसबीआई सेवा केन्द्र से साढ़े 3 लाख लूटे

- पांडुआ: कर्मचारियों से थाने में की जा रही पूछताछ

हुगली
पाण्डुआ थाना इलाके के हरालदासपुर के समीप कालना -भास्तरा रोड स्थित स्थित एसबीआई के सेवाकेन्द्र में मंगलवार की शाम साढ़े तीन लाख रुपए लूटने के 24 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं मिला है। इस सेवाकेन्द्र में काम करने वाले कर्मचारियों को थाने में बुलाकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने बताया कि दुपहिया पर सवार होकर तीन सशस्त्र लुटेरे पहुंचे। सेवा केन्द्र में घुसने के बाद हाथ में बंदूक व बम लेकर सबको डरा दिया। बैंक का शटर अंदर से बंद कर लिया। करीब साढ़े तीन लाख रुपए लूट पाट करने के बाद शटर उठाकर भागने लगे। इस दौरान विरोध करने पर ग्राहक सेवा केन्द्र के मालिक जलालुद्दीन मल्लिक जब वहां पहुंचे तो सेवा केन्द्र के बाहर खड़ा लुटेरा उन्हें हथियार की नोंक पर दुपिहया पर बैठाकर बैंची की ओर लेकर चला गया। घटना की सूचना पाकर पाण्डुआ पुलिस पहुंची। इस संबंध में ग्राहक सेवा केन्द्र के कर्मचारियों को थाने में बुलाकर लगातार पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि इस लूट की घटना के पीछे सेवा केन्द्र के कर्मचारी का ही हाथ है। एसबीआई सेवा केन्द्र में कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। इसकी जानकारी सिर्फ सेवाकेन्द्र के कर्मचारियों के पास ही थी।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned