पश्चिम बंगाल में डेंगू से केवल 19 लोगों की ही हुई मृत्यु

राज्य सरकार ने कलकत्ता हाईकोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा है कि जनवरी से अब तक केवल 19 लोग ही डेंगू से मारे गए हैं

By: शंकर शर्मा

Published: 10 Nov 2017, 05:17 AM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में जहां लगभग हर रोज डेंगू से किसी न किसी की मृत्यु हो रही है, वहीं राज्य सरकार ने कलकत्ता हाईकोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा है कि जनवरी से अब तक केवल 19 लोग ही डेंगू से मारे गए हैं। जबकि 18 हजार 135 लोग इसकी चपेट में आए हैं।

हाईकोर्ट के निर्देशानुसार राज्य सरकार की ओर से गुरुवार को जो हलफनामा दायर किया गया है उसमें यह दावा किया गया है। वहीं, राज्य स्वास्थ्य विभाग ने पहले ही कहा था कि डेंगू से 41 लोग मारे गए हैं। विभाग की इस घोषणा के बाद भी कई लोग डेंगू की भेंट चढ़े हैं। इसलिए हाईकोर्ट में दायर हलफनामा सवालों के घेरे में आ गया है।


शुक्रवार को कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश ज्योतिर्मय भट्टाचार्य की खंडपीठ में इसपर सुनवाई होगी। डेंगू पर कुल 6 याचिकाएं दायर हुई हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी ने भी याचिका दायर की है। इससे पहले तीन याचिकाओं पर सुनवाई के वक्त हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया था कि डेंगू की वर्तमान स्थिति पर हलफनामा दायर कर अदालत को अवगत कराया जाए। इसी कारण गुरुवार को सरकार की ओर से हलफनामा दायर किया गया।

हलफनामे में सरकार ने दावा किया है कि डेंगू पर नियंत्रण के लिए इस वर्ष के आरंभ से ही काम किए गए। इसके बावजूद सितंबर के चौथे सप्ताह से डेंगू पीडितों की संख्या बढऩे लगी। सरकार ने कहा है कि सितंबर में दुर्गापूजा के मद्देनजर बहुत से लोग अन्य राज्यों में गए थे। अन्य राज्यों में भी डेंगू ने अपना असर दिखाया है।

डेंगू के बढ़ते प्रकोप के कारण मौसम को जिम्मेदार ठहराते हुए हलफनामे में कहा गया है कि सितंबर और अक्टूबर में मौसम नियम के विपरीत रहा। कभी वर्षा तो कभी मौसम प्रतिकूल रहा। हलफनामें में यह भी कहा गया है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशा-निर्देशों के अनुसार ही डेंगू नियंत्रण का काम हाथ में लिया गया है। मुख्यमंत्री ने भी इस मामले को गंभीरता से लेते हुए बैठकें की हैं। हालांंकि सरकार ने मृतकों की संख्या अधिक होने से इंकार किया है। शुक्रवार को इसपर सुनवाई होगी।

महानगर में डेंगू से एक की मौत
महानगर में डेंगू से एक महिला की मौत हो गई। मृतका की पहचान सम्पद देवी वैद (62) के रूप में हुई है। वह बालीगंज सर्कुलर रोड की रहने वाली थी। पिछले मंगलवार से वह बेलव्यू अस्पताल में भर्ती थी। बुधवार की देर रात उसकी मौत हो गई। उनके रक्त में डेंगू के जीवाणु मिले थे। इससे पहले बुधवार को दक्षिण कोलकाता के मनोहरपुकुर की छात्रा की मौत एसएसकेएम अस्पताल में हो गई थी।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned