फर्जी दस्तावेज के बदले पैसे लेने के आरोप में पंचायत कर्मी गिरफ्तार

पुलिस ने एक पंचायत कर्मी को फर्जी किराया रसीद बनाकर ग्रामीणों को ठगने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

By: Vanita Jharkhandi

Updated: 15 May 2020, 08:00 PM IST


बशीरहाट
पुलिस ने एक पंचायत कर्मी को फर्जी किराया रसीद बनाकर ग्रामीणों को ठगने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी को बसीरहाट के बागुंडी गांव से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम मलय घोष है। अदालत में पेश करने पर पांच दिनों की पुलिस हिरासत का आदेश दिया।
मलय घोष, बशीरहाट नंबर 1 ब्लॉक में शंखचूरा-बागुंडी पंचायत का एक कार्यकर्ता है। आरोप है कि पंचायत कर्मी लंबे समय से प्रिंटिंग प्रेस से फर्जी किराए की रसीदें देकर ग्रामीणों को ठग रहा है। साथ ही बड़ी रकम के बदले बांग्लादेशियों को जन्म प्रमाण पत्र बेचने का भी आरोप था।
स्थानीय सूत्रों के अनुसार कुछ दिन पहले एक स्थानीय निवासी को नकली किराए की रसीद के साथ 2,200 रुपए दिए गए थे। शख्स ने घटना की सूचना स्थानीय पंचायत के मुखिया शरीफुल गाजी को दी। पंचायत के मुखिया ने फिर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मलय घोष को गिरफ्तार कर लिया। इस बारे में पूछे जाने पर पंचायत के मुखिया शरीफुल गाज़ी ने कहा कि हमें लंबे समय से शिकायतें मिल रही थी। पुलिस को मौके से कई नकली किराया रसीदें मिली है। यह पता चला है कि एक स्थानीय प्रिंटिंग प्रेस ने एक नकली मलय किराए की रसीद छापी थी। पुलिस जांच कर रही है कि घोटाले में और कौन-कौन शामिल हैं। पुलिस कुछ बांग्लादेशी नागरिकों के जन्म प्रमाणपत्रों की भी जांच कर रही है, जिन्हें पैसे के लिए बेचा गया था।

Vanita Jharkhandi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned