यात्री सेवा व सुरक्षा हमारी प्राथमिकता - हरेन्द्र राव,

पूर्व रेलवे ने मनाया 63 वां रेल सप्ताह

By: Rabindra Rai

Published: 25 Apr 2018, 07:45 PM IST

 

कोलकाता

भारत की सबसे बड़ी यातायात व्यवस्था भारतीय रेल के यात्रियों की सेवा व सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। यात्रियों की सुरक्षा व सेवा के लिए पूर्व रेलवे निरंतर काम कर रहा है। पूर्व रेलवे के क्षेत्र में प्रतिदिन 30 लाख यात्री सफर करते हैं। पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक हरेन्द्र राव ने 63 वें रेलवे सप्ताह समारोह पर बुधवार को बी.सी.राय ऑडिटोरियम में यह बातें कही। महाप्रबंधक राव ने क हा कि यात्रियों से जुड़ी हर समस्या पर हमारा विशेष ध्यान है। निरीक्षण बढ़ाने से दुघर्टनाओंं में कमी आई है। पूर्व रेलवे का हरसंभव प्रयास है यात्रियों को बेहरतर सेवा दें। इस अवसर पर 63 वें रेल सप्ताह का एक बुकलेट भी जारी किया गया। कार्यक्रम में गीती लाहिड़ी व उनकी टीम ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में विशिष्टजनों में महाप्रबंधक हरेन्द्र राव की पत्नी विमला राव, अतिरिक्त महाप्रबंधक सुचित्त कुमार दास, डीआरएम प्रभास दंसाना, सियालदह स्टेशन प्रबंधक आनंद बद्र्धन सहित कई लोग उपस्थित थे।

महसूस करें गर्व

महाप्रबंधक राव ने कहा कि भारतीय रेलवे देश के सबसे बड़ी परिवहन व्यवस्था है। रेलवे 2.27 क रोड़ यात्रियों को सेवा देती है। निजी नौकरी के क्षेत्र में सेवा भाव नहीं है। इसलिए रेलवे से जुड़े हर छोटे या बड़े कर्मचारी को गर्व महसूस करना चाहिए कि वे रेलवे से जुड़े हैं। इस अवसर पर रेलवे के क ई अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।

एक झलक में पूर्व रेलवे

-पूर्व रेलवे - कुल टे्रनें 2500

-कुल स्टेशन - 573
-कुल कर्मचारी - 1.1 लाख

-कुल यात्री - 30 लाख (प्रतिदिन)

--

रेल लाइन के समीप से व्यक्ति का गला कटा शव बरामद

कोलकाता
मुर्शिदाबाद जिले के जियागंज थाना क्षेत्र के बेलियापुकुर रेल लाइन संलग्न एक आम के बगीचे से एक व्यक्ति का गला कटा शव बरामद किया गया। मृतक की पहचान अब तक नहीं हो पाई है। सूत्रों के अनुसार बुधवार की सुबह स्थानीय कुछ लोगों ने आम के बगीचे में एक व्यक्ति को खून से लथपथ मृत हालत में पड़ा हुआ पाया। उन्होंने तत्परता के साथ इसकी जानकारी पुलिस को दी। खबर पाकर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। स्थानीय लोगों के अनुसार वह व्यक्ति उनके गांव का नहीं है। इससे पहले उनलोगों ने कभी उसे गांव में या गांव के आस-पास नहीं देखा था। प्राथमिक जांच के आधार पर पुलिस का अनुमान है कि इस अज्ञात व्यक्ति की किसी ने हत्या कर शव को रात के अंधेरे में बगीचे में फेंक दिया है। पुलिस आस-पास के थानों से संपर्क कर मृतक का परिचय जानने की कोशिश कर रही है।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned