पतंजलि योग समिति ने 180 योगा शिक्षकों को दिया प्रमाण पत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार करने में जुटा है पतंजलि
-योगा को सबके जीवन का हिस्सा बनाने की है कोशिश

By: Krishna Das Parth

Published: 26 Jan 2021, 12:42 AM IST

कोलकाता.

पतंजलि योग समिति ने कोलकाता और राज्य के विभिन्न हिस्सों से आए 180 शिक्षकों, राज्य पदाधिकारियों और जिला प्रभारियों को रविवार को हावड़ा के कोना एक्सप्रेस में एक समारोह आयोजित कर सम्मानित किया। इस आयोजन का मुख्य लक्ष्य योगा के क्षेत्र में कैरियर के संभावनाओं के बारे में युवाओं को जागरूक करना और उन्हें योगा को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना था।
इस मौके पर पश्चिम बंगाल के संरक्षक प्रबीर देव और विजय जायसवाल मौजूद थे। पश्चिम बंगाल के संरक्षक विजय जायसवाल ने बताया कि "180 के करीब प्रमाण पत्र कोलकाता और इसके आसपास के जिलों के शिक्षकों, राज्य के पदाधिकारियों और जिला प्रभारियों को दिया गया। वर्कशाप का अंत शांति मंत्र के जाप से हुआ।"
समाज सेवी जायसवाल ने बताया कि "योगा सभी उम्र समूह में लोकप्रियता प्राप्त कर रहा है। यह पिछले कुछ सालों से देखा गया है कि यह लोगों के लिए एक अच्छे कैरियर विकल्प के रूप में उभरा है। उन्होंने बताया कि पतंजलि योग समिति में अच्छे योग प्रशिक्षकों का एक समूह बनाने की शुरुआत करना जो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के योगा को सबके जीवन का भाग बनाने की कोशिश से जुड़ा हुआ है।" हजार से भी अधिक योगा उत्साहियों ने प्रमाण पत्र वितरण समारोह में भाग लिया। कोविड-19 युग के बाद हम प्रमाणित योगा गुरु व प्रशिक्षकों की मांग में बढ़ोतरी का अनुमान लगा रहे हैं।

----

तीन दिवसीय हिमालयन कार्निवाल पांच फरवरी से

-पर्टयन उद्योग को पटरी पर लाने के लिए राज्य सरकार की पहल
-
सिलीगुड़ी
पश्चिम बंगाल के पर्यटन उद्योग को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने के उद्देश्य से पांच फरवरी से तीन दिवसीय हिमालयन कार्निवाल का आयोजन किया जा रहा है। राज्य पर्यटन विभाग व हिमालय हॉस्पिटैलिटी टूरिज्म डेवलपमेंट नेटवर्क की संयुक्त पहल पर होने वाले इस कार्निवाल के आयोजन में गोरखा टेरिटोरियल एडमिनिस्ट्रेशन (जीटीए ), पश्चिम बंग वन विभाग एवं पर्यटन व्यवसायी की सक्रिय भूमिका होगी। सिलीगुड़ी के मैनाक टूरिस्ट लॉज में सोमवार को राज्य के पर्यटन मंत्री गौतम देव ने कार्निवाल के आयोजकों के साथ एक अहम बैठक की। बैठक में कार्निवाल के आयोजन को लेकर विस्तार से चर्चा की गयी। बैठक के बाद राज्य के पर्यटन मंत्री गौतम देव ने कहा कि इस कार्निवाल में राज्य के विभिन्न पर्यटन केंद्रों को दर्शाये जाने के साथ साथ वहां की आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं खान पान को प्रमुखता से उभारा जाएगा।
संवाददाताओं से बातचीत में पर्यटन मंत्री देव ने कहा कि कोविड संक्रमण काल के बाद पश्चिम बंगाल के पर्यटन उद्योग को दोबारा पटरी पर लाने के लिए हिमालयन कार्निवाल का आयोजन किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कार्निवाल के मद्देनजर मोटरसाइकिल रैली निकाली जाएगी। इसके साथ ही कई छोटे-बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned