भाई के सामने पुलिस कर्मी की पुत्री से छेड़छाड़

उत्तर 24 परगना जिले के टीटागढ़ थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात तीन मनचलों ने भाई के सामने पुलिस की पुत्री के साथ छेडख़ानी की

By: शंकर शर्मा

Published: 12 Nov 2017, 09:03 PM IST

कोलकाता. उत्तर 24 परगना जिले के टीटागढ़ थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात तीन मनचलों ने भाई के सामने पुलिस की पुत्री के साथ छेडख़ानी की। बहन की आबरू बचाने के लिए भाई उनसे उलझ पड़ा तो उसे बेरहमी से पीट-पीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया। घायल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल युवक हुगली जिले में पदस्थ एक पुलिसकर्मी का बेटा है।


सूत्रों के अनुसार भाई-बहन रात लगभग साढ़े दस बजे ट्यूशन पढ़ कर साइकिल से घर लौट रहे थे। बैरकपुर-बारासात सडक़ पर मस्जिद मोड़ के नजदीक मोटरसाइकिल सवार तीन मनचलों ने उनका रास्ता रोककर लडक़ी के साथ छेडख़ानी करनी शुरू कर दी। लडक़ी का हाथ पकड़ लिए। बहन के साथ बदतमिजी होते देख भाई बर्दाश्त नहीं कर पाया। वह उलझ पड़ा। मनचले उसे मारने-पीटने लगे। लडक़ी चीखने लगी।

उसकी चीख सुनकर आसपास के लोग दौड़े तो मनचले मोटरसाइकिल छोड़ कर भाग गए। पुलिस ने मोटरसाइकिल जब्त कर ली। फिर छानबीन के बाद शंभू सिंह नामक एक युवक को गिरफ्तार किया गया। वारदात में शामिल बाकी दो युवकों की तलाश की जा रही है। उल्लेखनीय है कि इसी तरह की घटना लगभग छह साल पहले बारासात में कचहरी मैदान इलाके में घटी थी। वहां मनचलों से बहन की आबरू बचाने में भाई की जान चली गई थी।

मां की डांट सुनकर बेटा भागा

हावड़ा. लिलुआ थाना इलाके के खालिया नस्करपाड़ा से गुरुवार को मां की डांट सुनकर घर से भागा कक्षा सातवीं के छात्र का ४८ घंटे बाद भी पता नहीं चला है। लिलुआ थाने की पुलिस उक्त छात्र की तलाश कर रही है। लापता छात्र बापी सरकार(१३)की मां उषा सरकार ने पुलिस से अपने बेटे के बारे में जल्द से जल्द पता लगाने की गुहार लगाई है।

उसने पुलिस को बताया कि गुरुवार को वह अपने गृह शिक्षक के यहां पढऩे गया था। उसके बाद से बैग रखकर अपने सर को कहा कि वह आ रहा है। उसके बाद से उसका कोई पता नहीं है। पति की मौत के बाद उषा सरकार कारखाने में मजदूरी कर अपने बेटे को पढ़ा ने लिखाने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रही है।

पुलिस पूरे मामले की छान बीन कर रही है। कुछ लोगों ने उसे आमता स्टेशन पर देखने का दावा किया है। पुलिस ने बताया कि वह अक्सर पढऩे का नाम कर स्कूल से भाग जाता था। बुधवार को उसे आमता स्टेशन के समीप कुछ लोगों ने देखा था लेकिन वह फिर वापस आ गया और गुरुवार की सुबह से पुन: लापता है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned