बारासात में वामपंथी नेताओं को पुलिस ने रोका

बारासात में वामपंथी नेताओं को पुलिस ने रोका

Prabhat Kumar Gupta | Publish: Sep, 03 2018 10:44:44 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

आमडांगा में पंचायत बोर्ड के गठन को लेकर हुई हिंसा में तीन लोगों के मारे जाने के विरोध में सोमवार को आमडांगा थाने का घेराव करने जा रहे वामपंथी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बीच रास्ते में ही रोक दिया।

 

- आमडांगा काण्ड के विरोध में थाना घेराव कार्यक्रम
बारासात/कोलकाता.

उत्तर 24 परगना के आमडांगा में पंचायत बोर्ड के गठन को लेकर हुई हिंसा में तीन लोगों के मारे जाने के विरोध में सोमवार को आमडांगा थाने का घेराव करने जा रहे वामपंथी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बीच रास्ते में ही रोक दिया। इसे लेकर वामो नेताओं और पुलिस अधिकारियों के बीच नोक-झोंक हुई। विरोध में कार्यकर्ताओं ने आमलसिद्धि मोड़ और संतोषपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर प्रदर्शन किया। घटनास्थल पर पहुंचे माकपा सांसद मोहम्मद सलीम पुलिस पर जमकर बरसे। उन्होंने पुलिस को चेतावनी के लहजे में कहा कि बेकसूर लोगों को गिरफ्तार करने से पुलिस बाज आए। पुलिस अपराधियों को छोड़ वाममोर्चा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर झूठे मुकदमे में फंसा रही है। माकपा के नेतृत्व में वामपंथी कार्यकर्ता तृणमूल कांग्रेस और पुलिस की सोची समझी साजिश का विरोध करेंगे। सलीम ने बताया कि आमडांगा पंचायत में हार के बावजूद तृणमूल कांग्रेस के नेता बोर्ड बनाने पर उतारू थे। पंचायत बोर्ड गठन के दिन (28 अगस्त 2018) को हिंसा होने की आशंका जताते हुए वाममोर्चा नेताओं ने पुलिस को सूचना दी थी। फिर भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। सलीम ने बेकसूर लोगों को रिहा करने की मांग की। उल्लेखनीय वाममोर्चा की जिला कमेटी ने आमडांगा थाने का घेराव करने का आह्वान किया था।

----------

बंगाल में उनकी लड़ाई तृणमूल व भाजपा दोनों से : अधीर

-कहा, राहुल गांधी के नेतृत्व में होगी लड़ाई
कोलकाता.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व सांसद अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को कहा कि पश्चिम बंगाल में उनकी लड़ाई सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों से है। इनके साथ राजनीतिक तालमेल की संभावनाएं दूर दूर तक नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी भाजपा और तृणमूल के खिलाफ कंधे से कंधा मिलाकर लड़ेगी। सोशल मीडिया के माध्यम से उन्होंने सोमवार को कहा कि लोगों को भ्रमित करने के लिए मीडिया का एक वर्ग उनके भाजपा में शामिल होने का अफवाह फैला रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वे स्पष्ट करना चाहते हैं कि कांग्रेस राहुल गांधी के नेतृत्व में भाजपा के खिलाफ लड़ाई जारी रखेगी। पश्चिम बंगाल में भी भगवा संगठनों के खिलाफ हमारी लड़ाई उसी का एक हिस्सा है। उन्होंने कहा कि बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के साथ भी उनकी पार्टी का किसी तरह का तालमेल नहीं है। पार्टी कार्यकर्ताओं के संदर्भ में चौधरी ने कहा कि किसी भी अफवाह पर ध्यान नहीं देने की जरूरत है। कांग्रेस पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के खिलाफ समान दूरी बनाकर लड़ाई लड़ेगी। इन दलों के साथ कहीं भी कोई समझौता नहीं है।

Ad Block is Banned