समान वेतन मांग को लेकर पैरा विधानसभा के बाहर विरोध प्रदर्शन


- हुआ हंगामा, पुलिस ने किया नियंत्रित

By: Renu Singh

Updated: 28 Jan 2021, 09:12 AM IST

कोलकाता
विधानसभा के गेट नंबर छह के सामने बुधवार को अचानक सैकड़ों पैरा शिक्षिका जमा हो गईं और विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। कई शिक्षिकाओं ने विधानसभा के गेट के अंदर घुसने की भी कोशिश की है। स्थिति को संभालने के लिए भारी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंची, महिला पुलिसकर्मियों की मदद से शिक्षिकाओं को खींचकर हटाया गया। इस घटना को लेकर काफी देर तक हंगामा होता रहा। कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया। जो लोग इस दिन विधानसभा के सामने इकट्ठा हुए थे, वे सभी कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ा रही हैं। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि उन्हें उनके काम के लिए समान वेतन संरचना और पेंशन दिया जाए। इस प्रदर्शन का आयोजन शिक्षक एकता मुक्त मंच की ओर से किया गया था। बुधवार से विधानसभा का दो दिनों का विशेष सत्र शुरू हुआ। इसे ध्यान में रखते हुए प्रदर्शनकारी वहां पहुंच गए और प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उनके साथ बैठक कर समस्या का निदान करें। वेतन वृद्धि सहित अन्य मांगों को लेकर सरकार लंबे समय से पैरा शिक्षकों से चर्चा कर रही है लेकिन समस्या का निदान नहीं हुआ। प्रदर्शनकारियों ने हाल ही में शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी के घर के सामने व शहीद मीनार के निकट भी तीन दिवसीय धरना दिया था। सरकार का दावा है कि इस तरह के स्थायी वेतन ढांचे के तहत कांट्रैक्ट आधारित शिक्षकों को लाना संभव नहीं है। कानूनी अड़चनें हैं। ममता सरकार के कार्यकाल के दौरान, इन पैरा शिक्षकों के वेतन में बहुत अधिक वृद्धि की गई है फिलहाल पूरे राज्य में करीब 56,000 पैरा शिक्षक हैं।

Renu Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned