scriptPushed the student leader from the roof, died | छात्र नेता को छत से धक्का दिया, जान गई | Patrika News

छात्र नेता को छत से धक्का दिया, जान गई

परिजनों ने कहा पुलिस ने बेटे को मार डाला
-वारदात के बाद कोलकाता से लेकर आमता तक पुलिस के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूटा
-कल्याणी विश्वविद्यालय में मास कमन्युकेशन का छात्र
-हत्या का मामला दर्ज
-उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी करेंगे जांच

कोलकाता

Published: February 20, 2022 04:34:49 pm

कोलकाता . हावड़ा के आमता शारदा साउथ खा पाड़ा में शुक्रवार की देर रात चार लोगों ने छात्र नेता को छत से धक्का दे दिया, वह नीचे गिरा और उसकी मौत हो गई। इन चार लोगों में से एक जना पुलिस की वर्दी में था। वारदात के बाद महानगर कोलकाता से लेकर आमता इलाके तक पुलिस के खिलाफ लोगों में गुस्सा फैल गया। कोलकाता में लोगों ने मोमबत्ती रैली निकालकर न्याय की गुहार लगाई। पहले तो पुलिस ने बयान देने से इनकार किया, लेकिन मामले के तुल पकड़ते ही अधिकारिक तौर पर हत्या का मामला दर्ज किया गया और पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी से जांच कराने के निर्देश दिए गए। आमता थाने की पुलिस का कहना है कि उनकी टीम ने शुक्रवार को गश्त नहीं लगाई थी। परिजनों का कहना है पुलिस ने आनिस खान की हत्या की है।
छात्र नेता को छत से धक्का दिया, जान गई
छात्र नेता को छत से धक्का दिया, जान गई
धक्का देकर भाग गए

आनिस के परिवार के मुताबिक, आनिस बागनान कॉलेज में पढ़ते समय छात्र संगठन एसएफआई के लिए काम करता था। जब वह कॉलेज में छात्र राजनीति कर रहा था उसी समय बागनान थाने में उसके खिलाफ कुछ मामले दर्ज हुए थे। परिवार का दावा है कि इतने सालों से कोई समन जारी नहीं किया गया और ना कोई पुलिस की पूछताछ हुई। परिवार का कहना है कि शुक्रवार को इलाके में जलसा का आयोजन हुआ था। आनिस वहां गया था। रात एक बजे वह घर लौटा। आनिस के बारे में सूचना पाकर पुलिस कथित तौर पर उसके घर छापेमारी करने पहुंची। पुलिस ने घर का दरवाजा खटखटाया। आनिस के पिता ने दरवाजा खोला। पुलिस जानना चाहती थी कि आनिस कहां है। परिवार का दावा है कि आनिस के पिता को तब यह पता नहीं था कि उनका बेटा जलसे से घर लौट आया है। उसने पुलिस को बताया कि लड?ा घर पर नहीं है। एक पुलिस वाला बंदूक लेकर आनिस के पिता के पास खड़ा रहा और तीन सिविक पुलिस कर्मी उसे तलाश करने लगे। वे ऊपर छत पर गए। वहां पुलिस वालों और आनिस की बीच मामूली से कहासुनी हुई। इतने में पुलिस वालों ने आनिस को छत से नीचे धक्का दे दिया और पुलिस वाले वहां से भाग गये। आनिस के पिता ने शोर मचाया। लेकिन पुलिस वाले तेजी से वहां से भाग खड़े हुए। पुलिस वाले कह रहे थे, सर चलिए हमारा काम हो गया।
पिता को धमकाया

आनिस खान के भाई ने कहा उसके पिता ने जैसे ही दरवाजा खोला, पुलिस वालों ने बंदूक तानकर पिता को धमकाया और कहा कि तुम्हारे बेटे आनिस के नाम पर शिकायतें हैं। पिता ने कहा मेरे बेटे के खिलाफ कोई शिकायत नहीं है। कभी कोई ऐसी जानकारी नहीं मिली है। पुलिस वालों ने कहा वो हम देख लेंगे।

पहले एसएफआई बाद में आईएसएफ

पुलिस और स्थानीयवासियों के अनुसार मृत छात्र नेता का नाम आनिस खान (28) है। वह आलिया विश्वविद्यालय से एमबीए कर चुका था और कल्याणी विश्वविद्यालय का मास्क कमन्युकेशन का छात्र था। आनिस ने बागनान कॉलेज में पढऩे के दौरान एसएफआई ज्वाइन की थी। बाद में वह आईएसएफ में शामिल हो गया था।

आमजन का मददगार

स्थानीय लोगों का दावा है कि आनिस खान इलाके के लोगों का साथ देता था। वह दिन हो या रात किसी भी समय आम लोगों की मदद के लिए सक्रिय रहता था वह लोगों के लिए किसी से भी पंगा ले लेता था। वह इलाके में काफी लोकप्रिय था। इससे राजनीति से जु?े लोगों में उसके प्रति द्वेष रखते थे।
--

---------
इनका कहना है
***** पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को जांच सौंपी है। मृतक के पिता ने पुलिस के खिलाफ ही आरोप लगाया है।"
सौम्य राय, पुलिस अधीक्षक हावड़ा ग्रामीण।
--
"मामले की जांच कर पुलिस आरोपियों चिन्हित कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करें। मृतक के परिवार को इंसाफ दिलाने की मदद करें।"
आमता विधायक सुकांत पाल
----
आनिस के पिता के साथ मैं आमता थाने पहुंचा। मामले में त्वरित कारवाई की मांग की। पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है। आसपास से और सीसीटीवी फुटेज की जांच की है।

आईएसएफ विधायक नौशाद सिद्दीकी
---
पुलिस आनिस खान को छत से धक्का देने की घटना की जांच कर आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करे। लोकप्रिय छात्र नेता आनिस खान की हत्या कर विरोधियों की आवाज दबाई नहीँ जा सकती है।
हावड़ा एसएफआई के पूर्व नेता शैलेन्द्र कुमार राय

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.