दो नाबालिगों संग यौन उत्पीडऩ के आरोपी संन्यासी को जेल

दो नाबालिगों संग यौन उत्पीडऩ के आरोपी संन्यासी को जेल

Vanita Jharkhandi | Publish: Sep, 04 2018 09:07:07 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

संन्सायी ने कहा कि उसे फंसाया जा रहा है

 

-हाबरा स्थित रामकृष्ण सारदा सेवाश्रम के 2 छात्रों संग कुकर्म करने का आरोप
कोलकाता . दो नाबालिग छात्रों के साथ यौन उत्पीडऩ के मामले में फंसे संन्यासी को अदालत ने 14 दिनों के लिए जेल हिरासत में भेज दिया है। अपने सफाई में संन्सायी ने कहा कि उसे फंसाया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार उत्तर 24 परगना के हाबरा स्थित रामकृष्ण सारदा सेवाश्रम के संन्यासी सत्यरूपानन्द को गिरफ्तार करने के बाद उसे अदालत में पेश किया गया। जहां पर अदालत ने 14 दिनों के लिए उसे जेल हिरासत में भेज दिया है। इसका खुलासा होने के साथ ही अन्य अभिभावकों ने भी संन्सायी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सभी का मानना है कि सत्यरूपानन्द महाराज छात्रों को अपने कमरे में बुलकार उनके साथ गन्दी हरकतें करता था। दूसरी ओर संन्यासी का कहना है कि उनको फंसाया जा रहा है। मालूम हो कि गोबरडांगा स्थित इस आश्रम में आवासीय विद्यालय में 50 नाबालिक शिक्षा ग्रहण करते हैं। यहां पर कक्षा एक से आठवीं तक की पढ़ाई होती है। कक्षा चौथी व छठवीं में पढऩे वाले दो बच्चों की तबीयत खराब होने के बाद इस कांड की पोल खुली। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। इस घटना से इलाके के लोग सकते में हैं, क्योंकि संन्यासी का इलाके में बहुत नाम है।

बिजली के झटके से एक व्यक्ति की मौत

तमलूक . वेल्डिंग का काम करते वक्त बिजली का झटका लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। उसका नाम अशोक सामान्त (48) है। वह तमलूक थाना इलाके के नारायणपुर गांव का रहने वाला था। सूत्रों के अनुसार सोमवार की रात को अशोक तमलूक-हल्दिया राज्य मार्ग के निकट नारायणपुर इलाके में एक गैरेज में काम कर रहा था। गाड़ी में वेल्डिंग का काम करते वक्त बिजली का झटका लगने से घायल हो गया। उसे तुरन्त तमलूक जिला अस्पताल में ले जाया गया जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

Ad Block is Banned