राज्य सरकार ने मानी निजी अस्पतालों की मांग, स्वास्थ्य साथी पैकेज में वृद्धि

- राज्य के 2000 निजी अस्पतालों में मिलेगी स्वास्थ्य साथी योजना की सेवा

By: Renu Singh

Published: 12 Feb 2021, 08:11 AM IST

कोलकाता
स्वास्थ्य साथी योजना के तहत मिलने वाले उपाचर के लिए तय पैकेजों की दर में निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम की ओर से की जा रही वृद्धि की मांग को आखिरकार ममता सरकार ने मान लिया है। राज्य सरकार मांग को स्वीकार करते हुए करीब 60 फीसद पैकेजों की दर में 10-15 फीसद की वृद्धि की है। मंगलवार को इसकी घोषणा की गई। राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय और स्वास्थ्य सचिव नारायण स्वरूप निगम ने राज्य के सभी निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम के मालिकों व प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। इसके बाद पैकेज की दर वृद्धि की घोषणा की गई। निजी अस्पताल और नर्सिंग होम लंबे समय से इसकी मांग कर रहे थे। उन्होंने शिकायत की कि सरकार द्वारा निर्धारित दर निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम के लिए बड़ी समस्या बनी हुई है। इस बार सरकार ने व्यावहारिक रूप से उनकी मांग को स्वीकार कर लिया। सरकार के अनुसार राज्य में एक करोड़ 40 लाख लोग स्वास्थ्य साथी योजना के अधीन आ चुके हैं। योजना को राज्य में अभूतपूर्व प्रतिक्रिया मिली है। पहले से ही 1,536 निजी अस्पताल और नर्सिंग होम इस परियोजना की सुविधा लोगों को मिलने का दावा किया जा रहा है। इनमें 425 नए निजी अस्पताल और नर्सिंग होमों को शामिल किया गया है। बेड की संख्या में भी वृद्धि हुई है। सरकारी अनुमानों के अनुसार, परियोजना के लाभार्थियों के लिए सार्वजनिक और निजी अस्पताल-नर्सिंग होम के लिए पहले से ही 1,22,025 बेड मौजूद हैं- राज्य के 2000 निजी अस्पतालों में मिलेगी स्वास्थ्य साथी योजना की सेवागौरतलब है कि स्वास्थ्य साथी योजना में पांच लाख तक के इलाज की सुविधा है। ममता ने चुनाव से पहले राज्य के सभी लोगों के लिए इस योजना की पिछले दिनों घोषणा की थी। इसके तहत जिन परिवारों ने इस योजना के तहत पंजीकरण कराया है

Renu Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned