स्ट्रीट डॉग प्रेमियों ने निगम के खिलाफ किया प्रदर्शन

स्ट्रीट डॉग प्रेमियों ने निगम के खिलाफ किया प्रदर्शन

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Sep, 03 2018 10:47:56 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

लगभग 25 श्वान प्रेमियों ने धापा डॉग पौंड के बाहर हाथों में स्लोगन लिखे हुए पोस्टर्स और प्लेकार्ड लेकर प्रदर्शन किया।

कोलकाता

महानगर के स्ट्रीट डॉग प्रेमियों ने कोलकाता नगर निगम की ओर से चलाए जा रहे श्वान नसबंदी व टीकाकरण प्रक्रिया पर लापरवाही और गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए मौन प्रदर्शन किया। सोमवार की सुबह लगभग 25 श्वान प्रेमियों ने धापा डॉग पौंड के बाहर हाथों में स्लोगन लिखे हुए पोस्टर्स और प्लेकार्ड लेकर प्रदर्शन किया। उनका आरोप है कि निगम की ओर से चलाए जा रहे नसबंदी अभियान के दौरान विभिन्न इलाकों से सडक़ों के श्वानों को निगम कर्मी ले तो जाते हैं लेकिन वहां से उन्हें वापस नहीं लौटाया जा रहा है। कई इलाकों से श्वानों के लापता होने की खबरें सामने आई है। उन लापता श्वानों का क्या हो रहा है या उनका क्या किया जा रहा है? इस बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं है। साथ ही उनका यह भी आरोप है कि निगम के डॉग पौंड में जो सुविधाएं सडक़ के श्वानों को मुहैया कराई जानी चाहिए। वह सुविधाएं कुछ पहुंचे हुए लोंगो की मदद से पालतू श्वानों को दी जा रही है, वह भी सरकारी खर्च पर। आरोप है कि उनके प्रदर्शन के दौरान स्थानीय नेता व उनके समर्थकों ने प्रदर्शनकारियों को रोकने की कोशिश की। स्थानीय तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के अनुसार पशुप्रमियों का निगम के खिलाफ आरोप बेबुनियाद है। निगम कर्मी नियम और कानून को ध्यान में रखते हुए अपनी जिम्मदारी निभा रहे हैं। माहौल गर्म होते देख पुलिस ने इस मामले में हस्तक्षेप किया और टीएमसी समर्थकों को शांत कराया। इस बारे में कोलकाता नगर निगम के एमआईसी अतीन घोष ने कहा कि यह एक लोकतांत्रिक देश है। यहां सबको अपने मत रखने का अधिकार है, लेकिन इस तरह प्रदर्शन करके किसी पर गलत आरोप लगाना सही नहीं है। उनकी शिकायत के आधार पर निगम की ओर से कार्रवाई की जा रही है, लेकिन अब तक इस मामले में कोई गड़बड़ी सामने नहीं आई है।

Ad Block is Banned