स्वामी विवेकानंद की जयंती : सत्तारूढ़ तृणमूल और भाजपा में स्वामी जी को श्रद्धा ज्ञापन करने को लेकर मची होड़

तृणमूल ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा इस साल ही क्यों आ रहे हैं भाजपा नेता
-भाजपा ने कहा इसमें कोई राजनीति नहीं

By: Krishna Das Parth

Published: 12 Jan 2021, 11:33 PM IST

कोलकाता.
महान आध्यात्मिक संत स्वामी विवेकानंद की जयंती के मौके पर उनके प्रति श्रद्धा ज्ञापन करने की होड़ भारतीय जनता पार्टी और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में लगी है। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव के मद्देनजर स्वामी जी के प्रति उमड़ रहे प्रेम को लेकर दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर तंज कस रही हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कैबिनेट में महिला और बाल विकास मंत्री शशि पांजा ने मंगलवार को भाजपा नेताओं द्वारा शिमला स्ट्रीट स्थित स्वामी जी के आवास पर श्रद्धांजलि अर्पित करने को लेकर तंज कसा है। उन्होंने पूछा है कि आखिर यह सारे नेता इस साल क्यों आए हैं? क्या इसकी वजह यह नहीं कि यहां चुनाव है।
दरअसल कोलकाता के शिमला स्ट्रीट पर स्थित स्वामी विवेकानंद के पैतृक आवास पर हर साल उनकी जयंती पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जिसमें विभिन्न पार्टियों के प्रतिनिधि शिरकत करते हैं। इस साल भी इसका आयोजन हुआ है। यहां भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, बंगाल के पूर्व परिवहन मंत्री और भाजपा के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी समेत अन्य नेताओं ने सुबह के समय ही पुष्पांजलि अर्पित कर स्वामी जी को श्रद्धांजलि दी है। इसके अलावा सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की ओर से मंत्री शशि पांजा, सांसद सुदीप बनर्जी और कई अन्य नेता भी पहुंचे हुए थे। दोनों ही पार्टियों के नेताओं ने एक दूसरे से मुलाकात पर सौजन्य अभिवादन भी किया लेकिन मीडिया के सामने तंज कसने से बाज नहीं आए। शशि पांजा ने कहा कि हम हर साल यहां आते हैं। सन्यासियों की मौजूदगी में यहाँ एक जुलूस भी होता है और इस कार्यक्रम के दौरान कोई शोरगुल नहीं होता। लेकिन इस बार हम एक बिल्कुल अलग नजारा देख रहे हैं। सोमवार को यहां सडक़ों पर राजनीतिक बहस हुई और आज विभिन्न नेताओं और मंत्रियों की उपस्थिति में मैंने 'भारतमाता की जय' के अलावा विभिन्न धार्मिक नारे भी सुने। ये सभी जयकारे राजनीतिक को आश्रय देते हैं। उन्होंने सवाल किया कि इस साल बंगाल में इतने लोग क्यों आ रहे हैं?

सांसद सुदीप ने की स्वामी जी की प्रतिमा बनवाने की मांग

सांसद और तृणमूल के वरिष्ठ नेता सुदीप बनर्जी ने गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल की तरह स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा बनाने की मांग की। उन्होंने कहा कि भाजपा वालों ने तो सरदार बल्लभ भाई पटेल की विशालकाय प्रतिमा बना दी। अब उन्हें स्वामी जी के प्रति भी अपने प्रेम का प्रदर्शन करते हुए यहां एक विशाल प्रतिमा बनानी चाहिए।
---
शुभेंदु ने राजनीतिक टिप्पणी से किया इनकार

स्वामीजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए भाजपा नेता शुभेंदु अधकारी ने कहा कि 20 साल हो गए। हर साल यहां आते हैं। मैं इसे दिल से करता हूं। स्वामीजी का आदर्श बहुत प्रासंगिक है। हम सभी त्रुटिपूर्ण लोग हैं। हम आध्यात्मिक जीवन नहीं जी सकते, लेकिन प्रासंगिक जीवन जी सकते हैं। आप लॉकडाउन में एक परिवार को खिलाने की जिम्मेदारी ले सकते हैं, मैं भी ले सकता हूं। यह स्वामीजी का मार्ग है।
शुभेंदु ने कहा कि इसका राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है। मैं यहां हमेशा कभी कॉलेज के छात्र, पार्षद, विधायक, सांसद के रूप में आता रहा हूं। पिछले साल मंत्री के रूप में आया था। आज मैं एक सामान्य नागरिक, एक भारतीय के रूप में आया हूं

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned