डंकन चाय बागान में हुई तीन मजदूरों की मौत

जलपाईगुड़ी जिले के डंकन चाय बागान में शुक्रवार को तीन मजदूरों की मौत हो गई। इनके नाम लोटे खाडिय़ा(6 8 ), संचारी उरांव (48 ) और रेनू महाली (50) है

By: शंकर शर्मा

Published: 04 Dec 2015, 11:31 PM IST

कोलकाता. जलपाईगुड़ी जिले के डंकन चाय बागान में शुक्रवार को तीन मजदूरों की मौत हो गई। इनके नाम लोटे खाडिय़ा(6 8 ), संचारी उरांव (48 ) और रेनू महाली (50) है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक हांटूपाड़ा चायबागान में लोटे खाडिय़ा(68) की मौत हुई है। बीरपाड़ा डंकन चायबागान के मजदूर संचारी उरांव (48 ) की मौत बीरपाड़ा अस्पताल में हुई। जबकि नागेश्वरी चाय बागान की महिला मजदूर रेनू महाली (50) की माल अस्पताल में मौत हुई। इन मजदूरों की मौत के कारण चाय बागान में मातमी का महौल है। पिछले 72 घंटे में 6 चाय बागान मजदूरों का निधन हुआ है।

लोटे के परिवार का आरोप है कि दो माह पहले उसे बीरपा स्टेट जनरल अस्पताल में भर्ती किया गया था। सात दिनों में वह ठीक होकर घर वापस भी आया। लेकिन दुबारा बीमार होने पर उसको आर्थिक तंगी के कारण अस्पताल नहीं ले जाया जा सका। जिससे उसकी मौत हो गई।

संचारी उरांव के परिजनों ने आरोप लगाया कि 9 माह से चाय बागान बंद है। जदूरों को ना तो वेतन मिल रहा है और ना ही सरकारी राशन ही। ऐसे में कुपोषण व चिकित्सा के अभाव में संचारी उरांव की मौत हो गई। जिले के मुख्य स्वास्थ अधिकारी डॉ प्रकाश मृधा ने बताया कि किसी चाय बागान के मजदूर की मौत चिकित्सा के अभाव या कुपोषण से नहीं हुई है। उनकी मौत बीमारी से हुई है। चायबागान भले ही बंद है लेकिन राज्य सरकार के स्वास्थ विभाग के अधिकारी उनकी नियमित स्वास्थ्य की जांच कर रहे है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned