कोलकाता के डॉ. बीसी राय अस्पताल में नन्हे-मुन्ने को लेकर भागे चले आ रहे परिजन

कोरोना की तीसरी लहर अभी आई नहीं है, लेकिन इसके कल्पना मात्र से ही लोग सिहर जा रहे हैं कि पता नहीं यह बच्चों पर क्या कहर ढाहेगी, इस बीच बंगाल में फैली अज्ञात बुखार से भारी संख्या में बच्चे प्रभावित भी होने लगे हैं। लोगों में इस बात की आशंका बनी हुई है कि यह कहीं तीसरी लहर की शुरूआत तो नहीं है। यही कारण है कि बीमार पड़ते ही लोग अपने नन्हे-मुन्ने को लेकर भागे सीधे डॉ. बीसी राय अस्पताल पहुंच रहे हैं।

By: Krishna Das Parth

Published: 16 Sep 2021, 11:36 PM IST

प्रतिदिन बढ़ रहे अज्ञात बुखार के मामले

kolkata .

कोरोना की तीसरी लहर अभी आई नहीं है, लेकिन इसके कल्पना मात्र से ही लोग सिहर जा रहे हैं कि पता नहीं यह बच्चों पर क्या कहर ढाहेगी, इस बीच बंगाल में फैली अज्ञात बुखार से भारी संख्या में बच्चे प्रभावित भी होने लगे हैं। लोगों में इस बात की आशंका बनी हुई है कि यह कहीं तीसरी लहर की शुरूआत तो नहीं है। यही कारण है कि बीमार पड़ते ही लोग अपने नन्हे-मुन्ने को लेकर भागे सीधे डॉ. बीसी राय अस्पताल पहुंच रहे हैं। (The relatives comes with the their little one in Dr. BC Rai Hospital in Kolkata)
कहीं कोई अपने बच्चे को पैदल लेकर पहुंचा था, तो कोई ऑटो से। कहीं कोई टैक्सी से, तो कोई एंबुलेंस से। दौड़ते भागते लोग इमरजेंसी गेट के बाहर भी नजर आए। कोई पेड़ के नीचे उदास बैठा था तो, कहीं कोई अस्पताल परिसर में बैठे अपने बच्चे के अस्पताल से छुट्टी होने के दिन गिन रहा था। किसी के बच्चें की तबीयत ज्यादा बिगड़ी थी तो कहीं किसी के बच्चे की तबीयत ठीक भी हो गई थी। बच्चों के इस अस्पताल में दिनभर में कई मामले देखे गए। इस संबंध में पत्रिका ने कुछ बच्चों के परिजनों से बातचीत की। प्रस्तुत हैं उनसे बातचीत के कुछ अंश।

---
हुगली के आमडांगा से अस्पताल पहुंची शहानारा बेगम ने कहा कि उनका नाती अस्पताल में भर्ती है। उसकी उम्र मात्र नौ महीने ही है। उसे बुधवार रात को भर्ती कराया गया। उसे पिछले 10 दिनों से सर्दी-खांसी-बुखार है। स्थानीय डॉक्टर ने उसे कोलकाता रेफर कर दिया था। तब वे उसेे लेकर इस अस्पताल में पहुंचे हैं।

--------
उत्तर 24 परगना की हासनाबाद से पहुंची मीना सरदार ने बताया कि उनकी नातिन बुधवार रात से यहां भर्ती है और उसे भी सर्दी खांसी और बुखार की समस्या है। उसकी उम्र 2 साल है। उसके सीने का एक्सरे कराया गया है। अभी तक रिपोर्ट के बारे में डॉक्टरों ने कुछ भी नहीं बताया है।

-------
हुगली के पुरसुरा की निवासी वीणापाणि रूईदास ने बताया कि उसका नाती 14 दिन से बीमार है। उसे भी ज्वर सहित कई समस्याएं हैं। वह कुछ दिन पहले भी यहां अपने बच्चे को लेकर इलाज कराने आई थी। ठीक होने पर उसे घर ले गई थी लेकिन फिर बच्चा बीमार पड़ गया। वह फिर उसे लेकर यहां आई है।

--------
देगंगा थाना इलाके के निवासी मोहम्मद जमशेद अली ने बताया कि उनका 7 माह का नाती श्वास कष्ट से पीडि़त है। वह 25 दिन से यहां भर्ती है। डॉक्टर कुछ स्पष्ट नहीं बता पा रहे हैं कि उसे क्या हुआ है। वे चाहते है कि उसका बच्चा जल्द ठीक हो जाए और वे उसे अपने घर लेकर चले जाएं।

----------
उत्तर 24 परगना के हाबरा के घुमा इलाके के रहने वाले सैदुल मंडल ने कहा कि उनकी 3 साल 1 महीने की नातिन को श्वास लेने में तकलीफ है। बच्ची कहीं किसी समारोह में गई थी और उसके बाद लौटते ही उसकी तबीयत बिगड़ गई। पहले तो बच्ची को लेकर बारासात अस्पताल गए थे। वहां से डॉक्टरों ने उसे रेफर कर दिया। बच्ची फिलहाल यहां आईसीयू में है। वह पिछले 9 दिनों से यहां भर्ती है।

--------
कृष्ण नगर से आए विद्युत मंडल ने कहा कि उनकी आठ दिन की बेटी सर्दी खांसी से पीड़ित है। वह सीजर के जरिए हुई थी। उसके बाद से ही उसकी तबीयत खराब है। उसकी मां अलग भर्ती है और बच्ची इस अस्पताल में है। बच्ची को श्वास कष्ट है।

------
हुगली के जामाई पाड़ा निवासी जितेन माली ने कहा कि उनकी 6 महीने की बच्ची 5 दिन से यहां भर्ती है। उसका इलाज चल रहा है। उसके शरीर में निमोनिया जैसे लक्षण है। लेकिन अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं हो पाया है। बस हम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।
--

उत्तर 24 परगना के मछलंदपुर बादुडय़िा थाना इलाके से आए हसमत अली ने बताया कि उनकी 4 महीने की बेटी यहां भर्ती है। बेटी का वजन कम था और जन्म लेते ही वह श्वास कष्ट की समस्या से परेशान है। वह पिछले 15 दिन से यहां भर्ती है। डॉक्टरों का कहना है कि उसे निमोनिया हो गया है।

----

उत्तर 24 परगना के संदेशखाली से आए गौसेल अली मोल्ला ने कहा कि उनकी नातिन 11 दिन से सर्दी ज्वर श्वास की समस्या से पीड़ित है। उसे आई सी यू में रखा गया है। डॉक्टरों का कहना है कि उसे अभी ठीक होने में समय लगेगा। बच्चे का इलाज चल रहा है।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned