20 जुलाई से कम होगा ओला-उबर का किराया

20 जुलाई से कम होगा ओला-उबर का किराया

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Jul, 13 2018 08:42:23 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

बेस फेयर के साथ सरचार्ज संबंधी राज्य परिवहन विभाग के प्रस्ताव को एप्प चालित कैब कंपनियों ने स्वीकार कर लिया

- बेस फेयर और सरचार्ज दोनों में होगी कमी
- एप्प चालित कैब कंपनियों ने राज्य परिवहन विभाग को पत्र लिखकर किया सूचित

कोलकाता.
राज्य में एप्प आधारित कैब सेवा लेने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर। 20 जुलाई से ओला-उबर कैब का किराया कम हो जाएगा। बेस फेयर के साथ सरचार्ज संबंधी राज्य परिवहन विभाग के प्रस्ताव को एप्प चालित कैब कंपनियों ने स्वीकार कर लिया है। कंपनियों ने राज्य परिवहन विभाग को पत्र लिखकर किया सूचित किया है कि संशोधित किराया 20 जुलाई से लागू किया जाएगा। सरचार्ज के नाम पर उक्त कंपनियां यात्रियों से मनमाना किराया वसूल रही थीं। कई यात्रियों ने इस दिशा में राज्य परिवहन विभाग का ध्यान आकृष्ट किया था। कई शिकायतें मिलने के बाद पिछले महीने से राज्य परिवहन विभाग किराये पर लगाम लगाने की दिशा में सक्रिय हुआ था।

-----
अब बेस फेयर होगा 40 रुपए

नए किराये के अनुसार ओला-उबर कैब का बेस फेयर अब 60 रुपए की जगह 40 रुपए होगा। सरचार्ज भी केवल रात में ही लगेगा। वह भी ४५ प्रतिशत से अधिक नहीं होगा। फिलहाल ऑफिस टाइम में भी एप्प चालित कैब कंपनियां यात्रियों ने मनमाना सरचार्ज वसूल करती हैं।
---

सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक कोई सरचार्ज नहीं
अब सुबह 8:00 बजे से रात 8:00 बजे तक कोई सरचार्ज नहीं होगा। किराये प्रणाली के शुरू होने के बाद से कैब कंपनियों को प्रतिमाह इस बावत परिवहन विभाग को रिपोर्ट भी सौंपनी होगी।

---
दिल्ली में पहले ही किराया हो गया था कम

इससे पहले दिल्ली में भी कैब कंपनियों के किराये को लोकर बवाल हुआ था। सरकारी हस्तक्षेप के बाद वहां किराया नियंत्रित हुआ था।

---

टैक्सी चालक चिंतित
ओला-उबर का किराया कम होने की खबर से पीली टैक्सी मालिक और चालक परेशान है। उनका कहना है कि एप्प चालित कैब सेवा शुरू होने से उनके व्यवासय को नुकसान हुआ है। अब यदि कैब का किराया कम हो जाएगा तो उऔर अधिक लोग कैब की सवारी करेंगे। इससे उन्हें और अधिक नुकसान होगा।

Ad Block is Banned