यह सांसद हैं ईश्वर की विशेष संतान

यह सांसद हैं ईश्वर की विशेष संतान
यह सांसद हैं ईश्वर की विशेष संतान

Rabindra Rai | Updated: 12 Oct 2019, 05:27:50 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

लोकसभा चुनाव में टिकट मिलने से लेकर अब तक इस सांसद को विवादों का सामना करना पड़ा है। कुछ ने टिकट पाने की योग्यता पर सवाल उठाए तो कुछ ने चुनाव में जीत हासिल करने के बाद अपने क्षेत्र में जनसेवा करने तथा संसद में अपनी बात रखने के मसले उठाए

कोलकाता. लोकसभा चुनाव में टिकट मिलने से लेकर अब तक इस सांसद को विवादों का सामना करना पड़ा है। कुछ ने टिकट पाने की योग्यता पर सवाल उठाए तो कुछ ने चुनाव में जीत हासिल करने के बाद अपने क्षेत्र में जनसेवा करने तथा संसद में अपनी बात रखने के मसले उठाए। अब जब सब कुछ लगभग ठीक चल रहा है तब पूजा समारोहों में भाग लेने के लिए मुस्लिम धर्म गुरुओं ने उनकी आलोचना शुरू कर दी है। यह सांसद कोई और नहीं बल्कि तृणमूल की लोकसभा सांसद एवं अभिनेत्री नुसरत जहां हैं। नुसरत ने एक पंडाल में अपने उद्यमी पति निखिल जैन के साथ सिंदूर खेला में हिस्सा लिया और कहा कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती हैं। नुसरत ने महानगर के चलताबागान के पंडाल में आयोजित विजयादशमी से जुड़ी इस रस्म में हिस्सा लिया।
--
मुस्लिम धर्म गुरुओं के निशाने पर
उद्यमी निखिल जैन से इस साल की शुरुआत में विवाह के बाद से ही नुसरत मंगलसूत्र और सिंदूर जैसे हिंदुओं के विवाह के प्रतीकों का प्रयोग करने को लेकर मुस्लिम धर्म गुरुओं के निशाने पर हैं। उन्हें दुर्गा पूजा समारोहों में भाग लेने के लिए भी इस सप्ताह की शुरुआत में आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा था। सिंदूर खेला रस्म के तहत विवाहित महिलाएं दुर्गा मां की पूजा करने और उन्हें प्रसाद चढ़ाने के बाद सिंदूर की होली खेलती हैं।
--
सद्भाव का संदेश फैलाने धरती पर भेजा
नुसरत ने संवाददाताओं के समक्ष दावा किया कि मैं ईश्वर की विशेष संतान हूं। मैं मानवता और प्रेम का सम्मान करती हूं। सद्भाव का संदेश समाज में फैलाने के लिए भगवान ने मुझे धरती पर भेजा है। मैं बहुत खुश हूं और विवादों से मुझे फर्क नहीं पड़ता। मैं सभी धर्मों का सम्मान करती हूं और सभी उत्सव मनाती हूं। दारुल उलूम देवबंद से जुड़े एक मुस्लिम धर्म गुरु ने गत सोमवार को कहा था कि नुसरत को अपना नाम और धर्म बदल लेना चाहिए क्योंकि वह अपने कार्यों से इस्लाम और मुस्लिमों को बदनाम कर रही हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned