पारिवारिक कलह में सास-बहू और मासूम बच्चे की मौत

पश्चिम बंगाल के मालदह जिले में मंगलवार की सुबह पारिवारिक कलह रूपी राक्षस ने सास-बहू और एक मासूम बच्चे को काल के गाल में धकेल दिया।

By: Ashutosh Kumar Singh

Published: 13 Mar 2018, 09:23 PM IST

. सास से झगड़ कर बहू ने दुंधमुहे बच्चे को गोद में लेकर आग लगा ली

. बहू और पोते की मौत के बाद सांस ने भी अत्मदाह कर लिया

. मालदह जिले के हबीबपुर इलाके की घटना
कोलकाता

पश्चिम बंगाल के मालदह जिले में मंगलवार की सुबह पारिवारिक कलह रूपी राक्षस ने सास-बहू और एक मासूम बच्चे को काल के गाल में धकेल दिया। सास से झगड़ कर बहू ने दुंधमुहे बच्चे को गोद में लेकर आग लगा ली। दोनों की मौत हो गई। बहू और पोते की मौत के तुंरत बाद सास ने भी आग लगाकर अपनी ईहलीला समाप्त कर ली। मृतकों की पहचान निरुपमा दास (25), अर्णव दास (ढाई) व श्रीमती दास (72) के रूप में हुई है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है। हबीबपुर थाने की पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस घटना से ऋषिपुर पंचायत के कृष्णनगर गांव में मातम पसर गया गया है। पुलिस निरुपमा के पति शंकर दास से पूछताछ कर रही है।
-----

चार साल पहले हुई थी निरुपमा की शादी
स्थानीय सूत्रों के अनुसार चार साल पहले निरुपमा और शंकर की शादी हुई थी। ढाई साल पहले निरुपमा ने एक पुत्र (अर्णव) को जन्म दिया था। मंगलवार सुबह लगभग 11 बजे निरुपमा और उसकी सास में झगड़ा हुआ। इसके बाद निरुपमा ने बेटे को साथ लेकर आग लगा ली। उसकी चीख सुनकर पड़ोस के लोग पहुंचे। लोगों ने उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हुए। अभी लोग ठीक से समझ भी नहीं पाए थे कि यह कैसे हुआ, तभी श्रीमती ने शरीर पर केरोसिन उड़ेल कर आग लगा ली। बुरी तरह से झुलसे हालत में लोग उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

-----
पति नहीं था घर पर

घटना के समय निरुपमा का पति शंकर घर पर नहीं था। पेशे से हॉकर शंकर हर दिन की भांति मंगलवार सुबह भी हॉकरी करने निकल गया था। घटना के बाद पड़ोस के लोगों से सूचना मिलने के बाद घर लौटा।
-----

सास-बहू में रोज होता था झगड़ा
पुलिस सूत्रों के अनुसार पड़ोस के लोगों से पूछताछ में पता चला है कि पिछले कुछ सालों से निरुपमा और उसकी सास श्रीमती के बीच अक्सर झगड़ा होता था। झगड़े के कारण के बारे में अभी पता नहीं चल पाया है। पुलिस शंकर से पूछताछ कर जानने का प्रयास कर रही है।

 

Ashutosh Kumar Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned