प्राकृतिक आपदा से निपटने को युवाओं को भारत सेवाश्रम संघ ने दी ट्रेनिंग

- सीखाया बाढ़ में कैसे करें राहत

By: VANITAI JHARKHAND

Published: 24 May 2018, 08:41 PM IST

कोलकाता . कहीं भी कोई प्राकृतिक आपदा हो तो सबसे पहले भारत सेवाश्रम संघ के संन्यासी पहुंचते हैं। राहत कार्य में जुटने के लिए युवाओं को तैयार करने में भी भारत सेवा श्रम संघ सक्रिय है। इसलिए हर साल बड़ी संख्या में युवाओं को प्राकृतिक आपदा के समय कैसे राहत कार्य किया जाए उसकी ट्रेनिंग दी गई। अधिकतर प्राकृतिक आपदाओं में बाढ़ की स्थिति सबसे विकट होती है पर उनको प्रयाप्त ट्रेनिंग नहीं मिल पाती। सरकारी तौर पर भी इस तरह की कोई विशेष प्रशिक्षण नहीं दिया जाता है। ऐसे में संघ के संन्यासी महाराज युवाओं को ट्रेनिंग प्रदान कर रहे हैं।

भारत सेवाश्रम संघ के प्रधान सम्पादक स्वामी विश्वात्मानन्द महाराज ने बताया कि हाल के सालों में भारत में प्राकृतिक आपदा की घटनाएं बढ़ी है। खासकर बंगाल में हर साल ही बाढ़ आ रही है। गंगासागर या कुम्भ मेले में भी तीर्थ यात्री स्नान करने के दौरान डूब जाते हैं। ऐसी घटना के दौरान लोगों की जान बचाई जा सके इसलिए विशेष ट्रेनिंग युवाओं को दी गई है। यह ट्रेनिंग विशेष थी इसलिए पुरी के समुद्र के किनारे दी गई। डूबने से बचाने, होश में लाने तथा फास्र्ट एड के गुर सिखाए गए। इसमें युवाओं ने उत्साह के साथ भाग लिया।

 

 

बक्सा जंगल में सुनहरी बिल्ली की तस्वीर कैद

अलीपुरदुआर . अलीपुरदुआर के बक्सा जंगल से विरल प्रजाति की सुनहरी बिल्ली की तस्वीर कैमरे में कैद हुई है। इससे पहले नेवड़ाभेली नेशनल पार्क में भी सुनहरी बिल्ली मिली थी। इस सुनहरी बिल्ली को एशियन गोल्डन कैट कहते हंै। बक्सा टाइगर परियोजना के अधिकारियों ने बताया कि जंगल में एशियन गोल्डन कैट के साथ ही वैइस्ल भी कैमरे में कैद हुआ है।
राज्य के प्रधान मुख्य वनपाल रविकान्त सिन्हा ने बताया कि बाघों की गणना के लिए लगाए गए कैमरे में एशियन गोल्डन कैट के साथ ही एक प्राणी की तस्वीर मिली है।

बाघों की गणना के लिए बक्सा जंगल 392 कैमरे लगाए गए हैं।

 

VANITAI JHARKHAND
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned