पूंजीपतियों के लिए काम करती है तृणमूल-भाजपा - मो. सलीम

- वामफ्रंट-कांग्रेस गठबंधन ने किया घेराव

By: Rajendra Vyas

Published: 24 Dec 2020, 06:37 PM IST

खडग़पुर. खडग़पुर शहर के झपेटापुर इलाके में स्थित खडग़पुर नगरपालिका के सामने बुधवार को वामफ्रं ट-कांग्रेस गठबंधन ने शहर के नल में आ रहे काले पानी और खडग़पुर नगरपालिका का अविलंब चुनाव कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए घेराव किया। साथ ही एक पथसभा का भी आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में माकपा नेता मोहम्मद सलीम, सीपीआई नेता संतोष राना, कांग्रेस नेता अमल दास, अमरनाथ चटर्जी और मधुकामी उपस्थित थे।
माकपा नेता मोहम्मद सलीम ने खडग़पुर नगरपालिका के प्रशासक बोर्ड पर निशाना साधते हुए कहा कि खडग़पुर नगरपालिका के इलाकों में स्वच्छ पेयजल एक समस्या बनी है। नगरपालिका के नलों में पानी काले रंग का आने से लोगों को काफी तकलीफ हो रही है। मो. सलीम ने तृणमूल और भाजपा को घेरते हुए कहा कि ये दो राजनीतिक दल एक सिक्के दो पहलू होने के साथ-साथ एक-दूसरे के पूरक है। कृषि आंदोलन का वामफ्रंट कांग्रेस सहित कई राजनीतिक दल खुलकर समर्थन करते हुए कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं लेकिन इस मामले में तृणमूल का रवैया काफ ी नरम है। शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग तृणमूल के साइन बोर्ड में चोरी करते थे अब भाजपा के साइन बोर्ड में जाकर डकैती करेंगे। दोनों ही दल विभाजन की राजनीति करते हैं। भाजपा हिन्दू-मुसलमानों को लड़ा रही है और तृणमूल बंगाली-हिंदी भाषा-भाषियों को लड़ा रही है। दोनों दल पूंजीपतियों की उन्नति के लिए काम करते हैं जबकि वामफ्रंट गरीबों और मजदूरों के हक के लिए लड़ती थी है और रहेगी।

Rajendra Vyas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned