बासंती में तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों में संघर्ष

दक्षिण 24 परगना जिले के बासंती थाना क्षेत्र के फुल मलंचा ग्राम पंचायत इलाके में वर्चस्व स्थापित करने को लेकर तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों में संघर्ष हुआ। आरोप है कि घटना के दौरान दोनों गुटों के समर्थकों ने गोलियां चलाईं और एक-दूसरे के घरों में तोडफ़ोड़ भी की।

By: Jyoti Dubey

Published: 07 Jan 2019, 04:42 PM IST

- घरों में की गई तोडफ़ोड़, पूर्व प्रधान सह 14 के खिलाफ मामला दर्ज

कोलकाता. दक्षिण 24 परगना जिले के बासंती थाना क्षेत्र के फुल मलंचा ग्राम पंचायत इलाके में वर्चस्व स्थापित करने को लेकर तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों में संघर्ष हुआ। गुरुवार की रात से शुरू हुआ संघर्ष पुलिस के हस्तक्षेप के बाद भी शुक्रवार की शाम तक रुक-रुक कर चलता रहा। आरोप है कि घटना के दौरान दोनों गुटों के समर्थकों ने गोलियां चलाईं और एक-दूसरे के घरों में तोडफ़ोड़ भी की। सूत्रों के अनुसार युवा तृणमूल नेता व पंचायत प्रधान युसफ अंसारी और तृणमूल कांग्रेस के नेता अफतार मोल्ला के बीच इलाके में वर्चस्व बनाने को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है। आरोप है कि गुरुवार की रात अफतार के समर्थकों ने युसफ के घर पर हमला कर दिया। युवा तृंका समर्थकों के कानों तक यह खबर पहुंचते ही वे लोग भी हथियारों के साथ तृंका समर्थकों के समक्ष खड़े हो गए। दोनों गुटों ने एक-दूसरे पर लाठियां बरसानी शुरू कीं और मारपीट शुरू हो गई। गोलियां चली, घरबार तोड़े गए। इलाके में तनाव पैदा हो गया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने दोनों गुटों का शांत कराया। गुरुवार की रात शांति रही। अगली सुबह दोबारा दोनों गुट आपस में भिड़ गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस की टुकड़ी को इलाके में तैनात किया गया और आस-पास के इलाकों में भी गश्त लगाने का निर्देश दिया गया। इस दौरान भी कई बार दिन भर छिटपुट झड़पें होती रहीं। इस मामले में पूर्व प्रधान अफतार मोल्ला सह दोनों गुटों के 14 जनो के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। हालांकि अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Jyoti Dubey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned