तृणमूल के गुट भिड़े, फायरिंग, बमबाजी, 2 की मौत

शहीद दिवस कार्यक्रम को लेकर बुधवार को उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट इलाके में तृणमूल कांग्रेस के दो गुट आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों के ओर से गोलियां चलाई गईं और बमबाजी की गई। हिंसा में एक वृद्ध महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई है। करीब दस लोग बुरी तरह से घायल हैं।

By: Rabindra Rai

Published: 21 Jul 2021, 11:08 PM IST

बशीरहाट में हिंसा, 10 से अधिक लोग घायल
कोलकाता. शहीद दिवस कार्यक्रम को लेकर बुधवार को उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट इलाके में तृणमूल कांग्रेस के दो गुट आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों के ओर से गोलियां चलाई गईं और बमबाजी की गई। हिंसा में एक वृद्ध महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई है। करीब दस लोग बुरी तरह से घायल हैं। किसी को गोली लगी है तो कोई बम के छर्रे से जख्मी हुआ है। घायलों में से कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है। उन्हें इलाज के लिए कोलकाता के आरजी कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृत महिला का नाम लख्खी बाला बताया जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक दूसरे मृतक की पहचान नहीं हो पाई थी।
यह घटना दोपहर लगभग ढाई बजे के करीब हुई, जब तृणमूल कांग्रेस प्रमुख व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शहीद सभा को वर्चुअली संबोधित कर रही थीं। स्थानीय सूत्रों के अनुसार शहीद सभा के प्रसारण के लिए हाड़वा थाना क्षेत्र के मोहनपुर इलाके में बड़ी स्क्रीन लगाने को लेकर तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता यंगेश्वर प्रमािणक और तपन राय के गुट के बीच भिड़ंत हो गई। कहासुनी और तू-तू-मैं-मैं के तुरंत बाद दोनों ओर से फायरिंग और बमबाजी शुरू हो गई। उस समय वहां बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। भगदड़ मच गई। 10 से अधिक लोग घायल दो गए। एक महिला की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घायल एक घायल एक व्यक्ति का अस्पताल ले जाते समय दम टूट गया। मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका जताई जा रही है।
--
तनाव, 10 हिरासत में
घटना को लेकर इलाके में तनाव का माहौल व्याप्त है। स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस और रैफ के जवानों की तैनाती की गई है। आला पुलिस अधिकारी स्थिति पर नजर रख रहे हैं। समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने इस सिलसिले में 10 लोगों को हिरासत में लिया था। उनसे पूछताछ की जा रही है।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned