जय श्री राम नारे को लेकर विवाद बढ़ा, तृणमूल शिक्षक सेल ने भाजपा के खिलाफ निकाली रैली

रामलीला पार्क से रानी राशमणि तक गए शिक्षक

जय श्री राम नारे को लेकर विवाद बढ़ा

तृणमूल शिक्षक सेल ने भाजपा के खिलाफ निकाली रैली

By: Krishna Das Parth

Published: 26 Jan 2021, 12:28 AM IST

कोलकाता.

दो दिन पहले बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की उपस्थिति में विक्टोरिया मेमोरियल में होने वाली नेताजी जयंती पर लगे राम नाम के जैकारे का मामला थमता नजर नहीं आ रहा है। मुख्यमंत्री मंच पर वक्तव्य देने गई तब तक सभा में बैठे लोगों ने जय श्री राम का नारा लगाना शुरू कर दिया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नाराज होकर अपना वक्तव्य नहीं रखा। इसको लेकर किसी ने ममता की निंदा की तो किसी ने इस मौके पर नारा लगाने वालों को कोसा भी। वामपंथी व कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों का यही कहना था कि इस तरीके से यह कार्यक्रम कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं था और उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। इसी को लेकर सोमवार को तृणमूल के शिक्षक सेल रामलीला मैदान से एक रैली निकाली। तृणमूल प्राइमरी शिक्षक समिति की तरफ से निकाली गई इस रैली में सैकड़ों की संख्या में शिक्षक शामिल हुए। रैली में पोस्टर और बैनर लेकर शिक्षकों ने कहा कि यह शर्मनाक है कि जहां इस प्रकार की राजनीति की जा रही है। इस अवसर पर रैली में संबोधन करने के लिए बाद में शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी भी पहुंचे। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि नेता जी के जन्म दिवस के समारोह को एक राजनीतिक कार्यक्रम बना दिया गया यह उचित नहीं है।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned