महिला सिविक पुलिसकर्मी हत्याकांड में 2 सुपारी किलर गिरफ्तार

महिला सिविक पुलिसकर्मी हत्याकांड में 2 सुपारी किलर गिरफ्तार

Rabindra Rai | Publish: May, 22 2018 10:34:18 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

6 माह से रच रहा था पत्नी की हत्या की साजिश

कोलकाता. सिविक पुलिस शम्पा दास की हत्या के मामले में हर रोज नया खुलासा हो रहा है। साथ ही मंगलवार की सुबह पुलिस ने माइकल नगर से दो सुपारी किलर को गिरफ्तार कर लिया है उनके नाम नीरज साहू व हाफीजुल मुल्ला है। इसके पहले रशीद अली मुल्ला को गिरफ्तार किया गया था। तीनों आरोपी को मंगलवार को बैरकपुर अदालत में पेश किया गया जहां तीनों को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस पूछताछ में कई नए तथ्य सामने आ रहे हैं। जिसमें खुलासा हुआ है कि शम्पा के पति सुप्रतीम ने गुस्से में नहीं, बल्कि बहुत ही सोच समझ कर साजिश रच कर पत्नी की हत्या करवाई है। लगभग छह महीने से वह षड्यन्त्र रच रहा था। उसे पत्नी की सम्पती पर लालच था। सूत्रों के अनुसार सुप्रतीम आंशिक रूप से विकलांग हो गया था उसके लिए फिजियोथेरेपी के लिए रशीद नामक व्यक्ति आता था। रशीद से ही उसने हत्या करवाने की बात कही थी इसके बाद रशीद ने ही सुपारी किलर नीरज व हाफिजुल का पता बताया था। उनके साथ वह लेकटाउन में मिलने भी गया था। उनलोगों ने हत्या के लिए एक लाख रुपए की मांग की थी। 60 हजार रुपए में बात तय हुई इस पर भी सुप्रतीम ने उन्हें 59 हजार रुपए ही दिए थे।

विधाननगर पुलिस कमिशनरेट के अन्तर्गत कोइखाली इलाके की शम्पा की हत्या शुक्रवार को उसके पति ने सुपारी किलर के हाथों से करवाई थी। उसने ऐसा रचा कि कुछ लोग घर में आए और मारपीट और लूटपाट की, सुप्रीतम को कुर्सी से बांध दिया और उन लोगों ने ही हत्या की थी। पुलिस को सुप्रतीम के किसी भी बात पर भरोसा नहीं हुआ। इस मामले में सुप्रतीम के साथ ही उसकी मां, नौकरानी के साथ ही रशीद व सुपारी किलर को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। सूत्रों के अनुसार हत्या के दौरान जिन हथियार का इस्तेमाल किया था वह सब भी सुप्रतीम के घर के पास से बरामद हुआ।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned