सियालदह डिवीजन के पातीपुकुर स्टेशन पर एक ही पटरी पर आईं दो ट्रेनें

घटना रात लगभग सवा दस बजे की है। इस घटना से दोनों ट्रेन के यात्रियों में खलबली मच गई।

- बड़ा रेल हादसा टला

- पूर्व रेलवे ने दिया जांच का आदेश

- कोलकाता स्टेशन मास्टर को कारण बताओ नोटिस
- बुधवार रात की घटना

कोलकाता

कोलकाता और दमदम स्टेशन के बीच बुधवार रात को एक बड़ा रेल हादसा होते-होते बच गया। पातिपुकुर स्टेशन के नजदीक अप जसीडीह पैसेन्जर और डाउन हल्दीबाड़ी एक्सप्रेस तकनीकी गड़बड़ी के कारण एक ही पटरी पर आ गई। इस घटना से दोनों ट्रेन के यात्रियों में खलबली मच गई। मामले को स्टेशन मास्टर की लापरवाही मानते हुए पूर्व रेलवे ने मामले की जांच का आदेश दिया है। साथ ही कोलकाता के स्टेशन मास्टर को कारण बताओ नोटिस दिया गया है। घटना रात लगभग सवा दस बजे की है। रात लगभग १०:०० बजे अप जसीडीह पैसेन्जर कोलकाता स्टेशन से रवाना हुई थी। ट्रेन जैसे ही पातिपुकुर स्टेशन के नजदीक पहंची, तो चालक ने देखा कि डाउन हल्दीबाड़ी एक्सप्रेस सिग्रल पर खड़ी है। चालक ने तत्परता के साथ ब्रेक लगा कर ट्रेन रोक दी। फिर स्टेशन मास्टर को सूचना दी गई। तुरंत कोलकाता स्टेशन से रेलवे के बड़े अधिकारी पहुंचे। कुछ देर बाद एक ट्रेन को पटरी से हटाया गया। फिर दोनों ट्रेनें अपने गंतब्य के लिए रवाना हुईं। पूर्व रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी रवि महापात्रा ने कहा कि मामले की जांच का आदेश दिया गया है। कोलकाता स्टेशन मास्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। सूत्रों के अनुसार प्वाइंटिंग में गड़बड़ी के कारण यह घटना घटी। गड़बड़ी के कारण हल्दीबाड़ी एक्सप्रेस तीन की जगह दो नम्बर ट्रैक पर चली अई थी। इस सिलसिले में विस्तृत जांच जारी है। सूत्रों के अनुसार पूर्व रेलवे के अधिकारियों ने जांच शुरू कर दी है। चालकों से घटना के बारे में पूछताछ की जा रही है। पूर्व रेलवे के सियालदह डिविजन में दो ट्रोनों के एक ही पटरी पर आने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले कई बार इस तरह की घटनाएं घट चुकी हैं।

Ashutosh Kumar Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned