निर्माणाधीन फरक्का पुल का गार्डर गिरा, 3 की मौत- 5 घायल

मालदह के वैष्णवनगर स्थित फ रक्का पुल रविवार शाम ढह गया। हादसे में तीन जनों की मौत हो गई, जबकि 5 घायल हो गए। मलबे में और श्रमिकों के फंसने की आशंका, डेढ़ साल से चल रहा था निर्माण कार्य।

मालदह

गार्डर लगाते समय मालदह के वैष्णवनगर स्थित फ रक्का पुल रविवार शाम ढह गया। हादसे में तीन जनों की मौत हो गई, जबकि 5 घायल हो गए। घायलों को मालदह मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया है। मलबे में कई श्रमिकों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। आपदा प्रबंधन और दमकल की टीम गैस कटर से काटकर फंसे श्रमिकों को निकालने की कोशिश कर रही थी। हादसे के बाद पुलिस व फरक्का बैरेज प्रबंधन के अधिकारी पहुंचे। मृतकों में एक जने निर्माणकारी संस्था के इंजीनियर हैं। जिनका नाम श्रीनिवास बताया जा रहा है। वहीं दो अन्य मृतक मजदूर थे। उनकी पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक रविवार शाम पुल के पिलर नं १ व २ के बीच गार्डर लगाने के समय दोनों पिलर गिर पड़े। जोर की आवाज हुई। श्रमिकों में चीख पुकार मच गई। पुलिस व दमकल विभाग घटनास्थल पर पहुंचा। युद्धस्तर पर मलबा हटाकर फंसे लोगों को निकालने का काम किया गया। घायल सात श्रमिकों को मालदह मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों का कहना है कि घायलों की स्थिति गंभीर है।

--सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े

इस घटना ने एक बार फिर पुल निर्माण के दौरान सुरक्षा उपायों को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। निर्माणाधीन पुल में इस्तेमाल हो रही सामग्री को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। एक दक्षिण भारतीय कंपनी पुल बना रही है।

--- पूरे मामले की हो जांच

दुर्घटना में कई लोगों के मारे जाने की खबर है। वे विभागीय मंत्री नितिन गडकरी से मिलकर हादसे की जांच और मृतकों को उचित मुआवजे देने की मांग करेंगे।

अधीर रंजन चौधरी, बहरमपुर सांसद

Paritosh Dube Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned