जन्माष्टमी पर विहिप ने निकाले 1000 से ज्यादा जुलूस

जन्माष्टमी पर विहिप ने निकाले 1000 से ज्यादा जुलूस

MANOJ KUMAR SINGH | Publish: Sep, 02 2018 11:19:49 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

कलोकाता के दस जगहों से निकाला विशाल जुलूस, 70 जगहों पर हुई पूजा

कोलकाता के अलग-अलग जगहों पर 10 विशाल जुलूस निकाले गए, जबकि शहर में 70 स्थानों पर कृष्ण पूजा हुई। भाजपा के प्रदेश महासचिव सायंतन बसु ने कहा कि पार्टी के कुछ नेताओं ने विहिप के आमंत्रण पर जुलूसों में भाग लिया। उन्होंने कहा कि जुलूस आयोजित करने में भाजपा की कोई भूमिका नहीं है।
कोलकाता

भगवान कृष्ण के जन्मदिवस के अवसर पर मनाए जाने वाले जन्माष्टमी पर्व पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने पश्चिम बंगाल के विभिन्न जगहों पर पूजा पाठ किया गया और जुलूस निकाला। इसमें हजारों की संख्या में युवाओं के अलावा महिलाओं और बुजुर्गों ने हिस्सा लिया और भगवा झण्डा लहराया। हाल के वर्षों में यह पहला मौका है, जब विश्व हिन्दू परिषद ने राज्य भर में बड़े पैमाने पर जन्माष्टमी मनाई है। विहिप ने कोलकाता में दस जगहों के साथ ही
राज्य के विभिन्न जगहों से जुलूस निकाला। विहिप की प्रदेश इकाई के मीडिया प्रभारी सौरेश मुखर्जी ने बताया कि जन्माष्टमी सामाजिक पर्व है। विहिप ने इसे बड़े स्तर पर मनाया है। उन्होंने कहा कि कोलकाता के अलग-अलग जगहों पर 10 विशाल जुलूस निकाले गए, जबकि शहर में 70 स्थानों पर कृष्ण पूजा हुई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश महासचिव सायंतन बसु ने कहा कि पार्टी के कुछ नेताओं ने विहिप के आमंत्रण पर जुलूसों में भाग लिया। उन्होंने कहा कि जुलूस आयोजित करने में भाजपा की कोई भूमिका नहीं है। उन्होंने सिर्फ आमंत्रण मिलने पर ही जुलूसों में भाग लिया।

-------------------

नवजात शव मामले पर पर्दा डाल रही है पुलिस - भाजपा

कोलकाता
हरिदेवपुर थाना इलाके के 214 नंबर राजा राममोहन सरणी स्थिति प्लॉट से पहले 14 बच्चों के शव बरामद होने और बाद में उसे मेडिकल वेस्ट बताए जाने के पुलिस के दावे को लेकर भाजपा ने कई सवाल उठाए हैं। प्रदेश भाजपा के महासचिव सायंतन बसु ने कहा कि पश्चिम बंगाल पुलिस राज्य सरकार की नाकामियों पर पर्दा डालने के काम में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि बर्दवान में हुए विस्फोट के बाद पुलिस ने दावा किया था कि वहां बम नहीं बल्कि सिलेंडर फटा हुआ है। बाद में जब एनआईए ने घटना की जांच शुरू की तो पता चला कि बर्दवान में बम विस्फोट हुआ था और वारदात बांग्लादेश के आतंकियों ने की थी। अब कोलकाता पुलिस नवजात बच्चों के शव को मेडिकल वेस्ट बता रही है तो इसमें चकित होने वाली कोई बात नहीं है। सायंतन ने दावा किया कि पुलिस सच्चाई को छिपा रही है। इस घटना से कोलकाता की सुरक्षा व्यवस्था व पश्चिम बंगाल सरकार की कानून व्यवस्था पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। पूरे देश में इसे लेकर आलोचना होने लगी थी। इसके बाद दबाव में आई कोलकाता पुलिस ने बच्चों के शव को बर्फ बताकर मामले को दबाने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि यह बात अगर केंद्र सरकार से जुड़ी होती तो पुलिस झूठे मामले को भी सच्चा साबित करने में जुट जाती। उन्होंने जलपाईगुड़ी बच्चा तस्करी मामले का उदाहरण देते हुए कहा कि उसमें भारतीय जनता पार्टी के कई नेताओं को फंसा दिया गया था जबकि इसमें कोई सच्चाई नहीं थी।

Ad Block is Banned