विमल गुरुंग के करीबी सहित तीन गिरफ्तार

विमल गुरुंग के करीबी सहित तीन गिरफ्तार

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Sep, 06 2018 09:50:29 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

पुलिस को लम्बे समय से तलाश थी। पुलिस उसकी गिरफ्तारी को महत्वपूर्ण कामयाबी मान रही है।

- भारी मात्रा में अवैध असलहा और विस्फोटक बरामद

- कलिम्पोंग थाने की पुलिस ने गोरुबथान इलाके से दबोचा

कोलकाता.
दार्जिलिंग जिले के गोरुबथान इलाके से पुलिस ने बुधवार की रात गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) प्रमुख विमल गुरुंग के करीबी जुरान राई और उसके दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया। इनके पास से भारी मात्रा में अवैध हथियार और विस्फोटक जब्त किया गया है। गुरुवार को तीनों को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने तीनों को 10 दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया। उनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस को लम्बे समय से सूचना मिल रही थी कि गोजमुमो के कुछ नेता पहाड़ को फिर से अशांत करने की योजना बना रहे हैं। इस उ²ेश्य से भारी मात्रा में अवैध हथियार और विस्फोटक जमा कर रहे हैं। विश्वसनीय सूत्रों से मिली सटीक सूचना के आधार पर बुधवार की रात कालिम्पोंग थाने की पुलिस ने गोरुबथान इलाके में छापेमारी की। वहां से जुरान राई और उसके दो सहयोगी रमेश राई और धीरज प्रधान को गिरफ्तार किया गया। इनके पास से अवैध असलहा, डेटोनेटर, जिलेटिन स्टिक वगैरह जब्त किए गए।

जिला पुलिस के एक आला अधिकारी ने बताया कि पहाड़ में हुए हिंसक आंदोलन के खिलाफ दर्ज मामलों में जुरान का नाम शामिल था। विमल गुरंग के करीबी जुरान को पुलिस को लम्बे समय से तलाश थी। पुलिस उसकी गिरफ्तारी को महत्वपूर्ण कामयाबी मान रही है। पुलिस को उससे पूछताछ में विमल गुरुंग का पता व वर्तमान में पहाड़ में गोजमुमो नेताओं की क्रिया-कलापों के बारे में कई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की उम्मीद थी। उल्लेखनीय है कि अलग गोरखालैण्ड राज्य की मांगो को लेकर गोजमुमो की ओर से पिछले साल पहाड़ में जोरदार हिंसक आंदोलन किया गया था। आंदोलन के दौरान बड़े पैमाने पर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया था। खून-खराबा भी हुआ था। इस संबंध में कई मामले दर्ज किए गए हैं। विमल गुरुंग और मामले के कुछ आरोपी फरार हैं।

Ad Block is Banned