वीआईपी कोटा हटाया तो हटाए गए एसएसकेएम अधीक्षक

वीआईपी कोटा हटाया तो हटाए गए एसएसकेएम अधीक्षक
kolkata news

Shankar Sharma | Publish: Jun, 24 2016 11:39:00 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

महानगर के सुपरस्पेलिटी अस्पताल एसएसकेएम के सुपर मानव सरकार पर तबादले की गाज गिर गई है

कोलकाता. महानगर के सुपरस्पेलिटी अस्पताल एसएसकेएम के सुपर मानव सरकार पर तबादले की गाज गिर गई है। गुरुवार को उन्होंने हड़ताली जूनियर डॉक्टर के दबाव में अस्पताल के बेड आरक्षण से वीआईपी कोटा हटाया था। शुक्रवार को उनका तबादला मुर्शिदाबाद के जिला मेडिकल कॉलेज में कर दिया गया।

राज्य स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, उनके स्थान पर डॉ. कराबी बोराल को सुपर बनाया गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक गुरूवार की रात को अस्पताल प्रबंध की ओर से नोटिस जारी की गई थी जिसमें अस्पताल की बेड आरक्षण प्रक्रिया से वीआईपी कोटे को हटा दिया गया था।

नोटिस में सुपर मानव सरकार व प्रिंसिपल मंजू बंद्योपाध्याय के हस्ताक्षर थे। सुबह होते ही प्रिंसिपल मंजू बंद्योपाध्याय ने सुपर मानव सरकार को कोटा हटाने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया। उसके कुछ देर बाद ही राज्य स्वास्थ्य विभाग से उनके तबादले की नोटिस आ गई।

उल्लेखनीय है कि बुधवार की रात छह वर्षीय बच्चे की चिकित्सा नहीं करने का आरोप लगाकर उसके परिजनों ने जूनियर डॉक्टरों की पिटाई कर दी। पिटाई के बाद गुरूवार से जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर बैठ गए थे।

 प्रदर्शनकारियों ने वीआईपी कोटा हटाने की मांग की थी। जिसे अस्पताल के प्रिंसिपल व सुपर ने मान लिया था। सूत्रों के अनुसार, जल्द ही प्रिंसिपल डॉ. मंजू बंद्योपाध्याय को भी हटाया जाएगा।

एसएसकेएम के अलावा सियालदह स्थित एनआरएस अस्पताल के सुपर डॉ. शेख अली अमाम का तबादला बांकुड़ा सम्मिलनी मेडिकल कॉलेज में कर दिया गया। वहीं बांकुड़ा सम्मिलनी के सुपर डॉ. पंचानन कुण्डू अस्पताल का प्रोफेसर बने रहेंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned